ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

अब कोटा में होगी-तत्काल पासपोर्ट की सुविधा– बिड़ला

नई दिल्ली/कोटा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों से एक बार फिर संसदीय क्षेत्र कोटा-बूंदी में सुविधाओं का विस्तार हुआ है। कोटा का पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र जल्द ही पूर्ण पासपोर्ट सेवा केंद्र में अपग्रेड हो जाएगा। ऐसा होने के बाद कोटा में ही तत्काल पासपोर्ट बनवाने की सुविधा भी मिलेगी। वेरीफिकेशन अधिकारी कोटा में ही पदस्थापित होने से पासपोर्ट जारी किए जाने के समय में भी कमी आएगी। लोकसभा अध्यक्ष बिरला से मिलने आए विदेश मंत्री डा. एस. जयशंकर ने इस पर सहमति दी है।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने वर्ष 2014 में पहली बार सांसद निर्वाचित होते ही कोटा में पासपोर्ट सुविधा के लिए प्रयास प्रारंभ कर दिए थे। उनके प्रयासों से वर्ष 5 मार्च 2017 को कोटा में पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट केंद्र की स्थापना हुई जिसके बाद कोटा में साधारण पोसपोर्ट के लिए आवेदन लिया जाना प्रारंभ हो गया। परन्तु तत्काल पासपोर्ट बनवाने की सुविधा नहीं मिल रही थी। वहीं आवेदकों के दस्तावेजों का प्रमाणिकरण जयपुर में ही होने के कारण पासपोर्ट जारी होने में एक माह तक का समय लग जाता था।

कोटा में पोस्ट ऑफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र नयापुरा स्थित प्रधान डाकघर में संचालित हैं। भवन पुराना तथा छोटा होने तथा सुविधाएं कम होने के कारण यहां पासपोर्ट के लिए आवेदन करने आए लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता था। इन सब परिस्थितियों को देखते हुए लोकसभा अध्यक्ष बिरला कोटा में ही पूर्ण पासपोर्ट सेवा केंद्र की स्थापना के लिए प्रयासरत थे।

विदेश मंत्री डा. एस जयशंकर सोमवार को जब बिरला से भेंट करने उनके कक्ष में आए तो दोनों के बीच अनेक विषयों पर बात हुई। चर्चा के दौरान डा. एस जयशंकर ने कोटा स्थित पोस्ट आॅफिस पासपोर्ट सेवा केंद्र को नए सुविधाजनक भवन में स्थानांतरित कर उसे पूर्ण पासपोर्ट सेवा केंद्र बनाने, कोटा में ही तत्काल पासपोर्ट बनवाने की सुविधा तथा वेरीफिकेशन अधिकारी भी पदस्थापित करने पर सहमति जताई। इस दिशा में तेजी से कार्य करने के लिए भी आश्वस्त किया।

उनके बीच अन्य देशों के साथ संसदीय राजनेय, वर्ष 2022 में आईपीयू की 145वीं महासभा का आयोजन भारत में किए जाने सहित अन्य कई विषयों पर भी बात हुई।

लोकसभा अध्यक्ष बिरला के प्रयासों का लाभ कोटा-बूंदी ही नहीं आसपास के लगभग 9 जिलों के नागरिकों को मिलेगा। कोटा में अभी तक तत्काल पासपोर्ट बनवाने की सुविधा नहीं होने से लोगों को जयपुर जाना पड़ता था। लेकिन कोटा में पूर्ण पासपोर्ट सेवा केंद्र बनने के बाद तत्काल पासपोर्ट बनवाने के लिए कोटा, बूंदी, बारां, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, उदयपुर, राजसमंद, प्रतापगढ़, डूंगरपुर आदि जिलों के लोग भी जयपुर की दूरी अधिक होने के कारण कोटा को प्राथमिकता देंगे।

बातचीत के दौरान लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने डा. जयशंकर से नौकरी या शिक्षा के लिए विदेश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों पर भी चर्चा की। स्पीकर बिरला ने कहा कि कोटा-बूंदी समेत पूरे राजस्थान में अनेक विद्यार्थी और व्यक्ति इस तरह की वारदात का शिकार हो चुके हैं। डा. जयशंकर ने आश्वस्त किया कि इस तरह के मामलों से बचने के लिए जल्द ही जागरूकता अभियान प्रारंभ किया जाएगा। इसके अलावा विद्यार्थियों को पढ़ाई के लिए अमरीका, ब्रिटेन, रूस, चीन, यूक्रेन, जाॅर्जिया सहित अन्य देशों में जाने से पूर्व अधिक से अधिक जानकारी उपलब्ध करवाने के भी प्रयास होंगे।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top