आप यहाँ है :

बाबा रामदेव मंत्रियों पर भड़के, राहुल गाँधी पर फिदा हुए

पीएम मोदी के करीबी माने जाने वाले योग गुरु रामदेव के एक बयान ने सबको चौंका दिया है। रामदेव ने एक तरफ तो मोदी सरकार के मंत्रियों को घमंडी कहा और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ की। उन्होंने किसानों के मुद्दे पर मोदी सरकार की आलोचना की तो राहुल के जोरदार अभियान की सराहना की।

टीवी चैनल 'आज तक' से मोदी सरकार के एक साल पूरा होने के सिलसिले में बात करते हुए बाबा रामदेव ने पीएम मोदी की तारीफ की, लेकिन साथ ही कुछ मंत्रियों के व्यवहार से खफा भी दिखे।

सरकार की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के जोरदार अभियान के बाबत सवाल पूछे जाने पर रामदेव ने कहा, 'राहुल गांधी ने निष्क्रिय हो चुकी कांग्रेस में नई जान फूंक दी है। एक समय एकदम लुप्तप्राय सी हो चुकी कांग्रेस राहुल गांधी की वजह से एक बार फिर अपनी रौ में नजर आने लगी है।'

उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों और विकास के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरने में कामयाब रही है।

रामदेव ने कहा कि अब मोदी सरकार को किसानों का विश्वास जीतना है। उन्हें अब किसानों के लिए नए सिरे से योजना तैयार करनी होगी।

 

राहुल गांधी के 'सूट-बूट की सरकार' वाले नारे पर रामदेव ने पीएम मोदी का बचाव करते हुए कहा, 'सूट-बूट पहनने से कोई अपराधी हो जाता है क्या?' हालांकि, उन्होंने भाजपा को चेताया कि चुनावी जीत में अहम भूमिका निभाने वाले दलितों, पिछड़ों व वंचितों में यह संदेश नहीं जाना चाहिए कि भाजपा में उनकी नुमाइंदगी नहीं रह गई है।

उन्होंने मोदी के कुछ मंत्रियों को घमंडी बताते हुए कहा, 'मोदी जी को छोड़कर अमित शाह, अरुण जेटली और ज्यादातर लोगों ने अपना फोन नंबर बदल लिया है। यह गलत है। उन्हें लोगों की समस्याएं सुननी ही चाहिए। कुछ तो काम करो। जो है वो दिखना भी चाहिए। नेताओं को फिर से चुनाव का सामना करना है। कुछ लोग घमंडी हो गए हैं। उन्हें तत्काल बदलाव लाने की जरूरत है।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top