आप यहाँ है :

रूस में बैठकर भारत के एटीएम हैक करके खाली कर देता था

आगरा के पांच सितारा होटल में तीन दिन से ठहरे इंदौर निवासी इंटरनेशनल एटीएम हैकर गिरोह के सदस्य को सूरत क्राइम ब्रांच ने सोमवार को गिरफ्तार किया। गिरोह का सरगना रशियन हैकर बताया गया है। गिरोह अब तक साढ़े चार करोड़ रुपए पार कर चुका है। सूरत में बीस दिन पहले कई एटीएम साफ किए गए थे।

सूरत क्राइम ब्रांच द्वारा गिरफ्तार आरोपी सुनील सिंह निवासी इंदौर है। आरोपी ने बताया कि उसका संपर्क रशिया में बैठे एक हैकर से था। एटीएम को वही डिकोड करता था इसके बाद मशीन में भरा पूरा कैश खाली हो जाता था। रुपए लेकर गिरोह फरार हो जाता था। रशियन हैकर को उसका 60 फीसदी हिस्सा हवाला के जरिये भेज दिया जाता था। शेष रुपए गिरोह बांट लेता था। गिरोह में लगभग एक दर्जन सदस्य बताए जा रहे हैं। आरोपी सुनील दिल्ली विवि से पोस्ट ग्रेजुएट है। रशियन हैकर से उसके जुड़ने के बाद उसके दोस्त भी गिरोह में जुड़ते चले गए।

ऐसे उड़ाते थे रुपए

– गिरोह सूने एटीएम को चुनता था।

– रशिया में बैठा सरगना हैकर स्काइप से जुड़ा रहता था।

– एक सदस्य एटीएम का 1 और एंटर बटन एकसाथ दबाता था।

– स्क्रीन पर एक कोड आता था, जिसे रशियन हैकर डिकोड कर मोबाइल से पासवर्ड भेजता था।

– इसे एटीएम में डालने पर रशियन हैकर उसे ऑपरेट करता और पूरा कैश मशीन से बाहर निकाल देता था।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top