आप यहाँ है :

राजस्थान में दागी कांग्रेसियों के रिश्तेदार हारे

राजस्थान में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो चुका है। भाजपा की आंधी में|� कांग्रेस के कई दिग्गज धराशायी हो गए। जनता ने दागी नेताओं के रिश्तेदारों को नकार दिया है।� ओसियां से कांग्रेस उम्मीदवार और पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा की पत्नी लीला मदेरणा,लूणी से मलखान विश्नोई की मां अमरी देवी, दूदू से पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर के भाई हजारीलाल नागर को भारी पराजय का सामना करना पड़ा

भंवरी देवी हत्याकांड में आरोपी महिपाल मदेरणा और मलखान विश्नोई जेल की हवा खा रहे हैं। बलात्कार के केस में आरोपी बाबूलाल नागर भी सलाखों के पीछे है। ओसियां से भाजपा प्रत्याशी भैराराम चौधरी ने लीला मदेरणा को 15,396 वोटों से� शिकस्त दी। भैराराम को 75,363 वोट मिले जबकि लीला मदेरणा को सिर्फ 59,967 वोट ही मिले।

लूणी से भाजपा प्रत्याशी जोगाराम पटेल ने अमरी देवी को 35,940 वोटों से हरा दिया। अमरी देवी को 60,446 और जोगाराम पटेल को 96,386 वोट मिले। दूदू से भाजपा उम्मीदवार प्रेमचंद बैरवा चुनाव जीत गए हैं। उन्होंने कांग्रेस के हजारीलाल नागर को 32,729 वोटों से हराया। नागर को 51,864 जबकि बैरवा को 84,543 वोट मिले।

.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top