आप यहाँ है :

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने राज्य वीरता पुरस्कार प्राप्त बच्चों को आशीर्वाद दिया

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से आज यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ राज्य वीरता पुरस्कार से सम्मानित बहादुर बच्चों ने सौजन्य मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने बच्चों के साहस और बहादुरी की सराहना करते हुए उन्हें उज्ज्वल भविष्य के लिए आशीर्वाद दिया। उन्होंने बच्चों को मन लगाकर पढ़ाई करने की समझाईश दी। बच्चों ने बड़ी उत्सुकता से मुख्यमंत्री को बताया कि उन्होंने हेलीकाप्टर में बैठकर नया रायपुर और रायपुर शहर देखा। अपनी यात्रा से रोमांचित इन बच्चों ने मुख्यमंत्री को इस यात्रा के लिए धन्यवाद दिया। बच्चों ने बताया कि उन्होंने आकाश से मरिन ड्राइव तेलीबांधा सहित शहर के अनेक स्थलों को देखा। मुख्यमंत्री ने बच्चों से उनकी बहादुरी के किस्से भी बड़ी आत्मीयता के साथ सुने। राज्यपाल श्री बलरामजी दास टंडन राजधानी रायपुर में आयोजित गणतंत्र दिवस के राज्य स्तरीय समारोह में इन बच्चों को राज्य वीरता पुरस्कार से सम्मानित करेंगे।

रायपुर रामसागर पारा मोहल्ले की कुमारी खुशी साहू ने बताया कि उसने लगभग 30 फीट की ऊंचाई से गिरी हुई ढाई साल की बच्ची को बचाया। रायगढ़ जिले के पंचधार गांव (विकासखंड-बरमकेला) के प्रशांत सिदार ने दो छोटी बच्चियों को पानी में डूबने से, धमतरी जिले के सौंगा (विकासखंड मगरलोड) की कुमारी खेमलता साहू ने अपने छोटे भाई को पानी में डूबने से और जगदलपुर के कृष्णा सेठिया ने भी एक बच्ची को डूबने से बचाया। रायपुर के झगेन्द्र साहू और रितिक साहू ने भाटागांव एनीकट में नहा रहे अपने एक दोस्त को डूबने से बचाया। मुख्यमंत्री ने इन बच्चों को उनकी बहादुरी के लिए शाबासी दी और मिठाई खिलाई। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रमशीला साहू, छत्तीसगढ़ राज्य बाल कल्याण परिषद के कोषाध्यक्ष श्री अजय त्रिपाठी, संयुक्त सचिव श्रीमती इंदिरा जैन, सदस्य श्री राजेन्द्र निगम और मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री भवानी शंकर तिवारी भी उपस्थित थे।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top