आप यहाँ है :

इ्न्दौर के अग्रवाल समाज की अनुकरणीय पहल

मध्‍यप्रदेश के इंदौर में अग्रवाल महासभा द्वारा आयोजित तीन दिनी परिचय सम्मेलन में स्वस्थ व स्वच्छ शहर के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाया गया। आयोजन में डिस्पोजल ग्लास और प्लेटों का इस्तेमाल नहीं किया गया। आयोजकों के मुताबिक आयोजन में 15 हजार लोग शामिल होते हैं, जो करीब 60 हजार डिस्पोजल ग्लास व प्लेटों का प्रयोग करते हैं। इस बार इनका उपयोग नहीं किया गया। पानी के लिए समाजजनों ने तांबे के लोटे का उपयोग किया।

अभिनव कला समाज प्रांगण गांधी हॉल में स्वास्थ्य के मद्देनजर कोल्ड्रिंक की बजाए देसी शीतल पेय पदार्थों का इंतजाम किया गया था। महासभा के समन्वयक संतोष गोयल के अनुसार आयोजन के 22वें वर्ष में परिचय सम्मेलन स्वच्छ व स्वस्थ शहर की थीम पर आयोजित किया गया है। विवाह समारोह में सुधार की दिशा में उठाए जा रहे कदमों को भी समाजजनों के बीच प्रचारित किया जा रहा है।

विवाह समारोह में 21 से कम व्यंजनों के प्रयोग के लिए समाजजनों को प्रेरित किया गया। सम्मेलन के दूसरे दिन भी बड़ी संख्या में समाजजनों का तांता लगा। मंच से करीब 400 प्रत्याशियों ने जीवनसाथी की तलाश की। परिचय देने वालों में अहमदाबाद, बड़ौदा, दाहोद, नागपुर, अकोला, जलगांव, जयपुर, उदयपुर, कोटा के प्रत्याशी शामिल थे। कई युवक-युवतियों ने कुंडली मिलान भी कराया।

विचार-विमर्श के लिए भी अभिभावक प्रत्याशियों का तांता लगा हुआ था। मंगलवार को अंतिम दिन सम्मेलन की शुरुआत सुबह 10.30 बजे होगी। अध्यक्ष मुरारीलाल गोयल, महामंत्री अजय बंसल, संयोजक रमेश तायल, एलबी अग्रवाल आदि मौजूद थे।

साभार: http://naidunia.jagran.com/ से 

.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top