Saturday, July 13, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिअपने दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए अपने दिल से अपने दिल...

अपने दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए अपने दिल से अपने दिल को जानें

दिल के दौरे का जोखिम मानो बढ़ते ही जा रहे है। बच्चों से लेकर बूढ़ों तक, सभी को दिल के बीमारी से खतरा है। हार्ट अटैक दिल की बीमारीयों मैं प्रमुख माना जाता हैं, जो पुरे विश्व मैं तेज़ी से फैल रही है। हार्ट अटैक की रोकथाम के लिए पश्चिम रेलवे के डॉ. शिशिर कुमार राउल, वरिष्ठ इंटरवेंशनल, हृदय रोग विशेषज्ञ, जगजीवन राम अस्‍पताल, मुंबई सेंट्रल द्वारा इसकी रोकथाम के उपाय बताए गए हैं :-

1-एनजाइना और हार्ट अटैक एक ही है या दो अलग-अलग बीमारियाँ हैं?
एनजाइना को रेट्रोस्टर्नल चेस्‍ट पेन/दबाव, जलन या भारीपन के रूप में परिभाषित किया गया है; कभी-कभी यह गर्दन, जबड़े, अधिजठर, कंधे या बायीं बांह तक फैलता है परंतु यह कभी भी निचले जबड़े के ऊपर या नाभि के नीचे नहीं फैलता है। यह व्यायाम, ठंड के मौसम या भावनात्मक तनाव से उत्पन्न होता है और इसमें आराम या सब्लिंगुअल नाइट्रेट से राहत मिलती है। यह 2-10 मिनट तक रहता है।

मायोकार्डियल इंफाक्‍शर्न (दिल का दौरा) इस इकाई का सबसे गंभीर रूप है जिसमें अचानक सीने में दर्द शुरू हो जाता है जो अक्सर सांस की तकलीफ, कमजोरी, मितली या उल्टी से जुड़ा होता है। यह आमतौर पर >/=30 मिनट तक रहता है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार