ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मुख्यमंत्री घर-घर औषधि योजना का शुभारंभ- औषधीय पौधे रोपे एवं वितरित किए

कोटा। बूंदी में मुख्यमंत्री घर-घर औषधि योजना का शुभारंभ रविवार को जिले में हुआ।मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री निवास पर औषधीय पौधे रोपकर वीसी के माध्यम से सभी जिलों से जुड़कर योजना का शुभारंभ किया।प्रदेश स्तरीय शुभारंभ के बाद जिले में योजना का शुभारंभ सर्किट हाउस में औषधीय पौधे रोपण कर किया गया। विद्यार्थियों तथा नागरिकों को औषधीय पौधों का वितरण भी किया गया। इसी के साथ जिला स्तरीय वन महोत्सव भी आरंभ हो गया।

मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री श्री हरीमोहन शर्मा ने जिला प्रमुख श्रीमती चंद्रावती कंवर, नगर परिषद सभापति श्रीमती मधु नुवाल, जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता, पुलिस अधीक्षक शिवराज सिंह ,उप वन संरक्षक सोनल जोरीहार की मौजूदगी में औषधीय पौधों का रोपण कर जिले में योजना का शुभारंभ किया। इस अवसर पर गिलोय, अश्वगंधा,कालमेघ, तुलसी एवं अन्य औषधीय पौधों का रोपण किया गया। मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री श्री हरिमोहन शर्मा ने कहा कि यह योजना जन जन के लिए महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने प्रदेश वासियों के स्वास्थ्य को सर्वोपरि रखते हुए औषधीय पौधों को घर घर पहुंचाने का बीड़ा उठाया है।उन्होंने आह्वान किया कि योजनांतर्गत पौधे प्राप्त करने वाले नागरिक इन पौधों की उचित सार संभाल भी करें ताकि यह पौधे जीवित रहें और अपने गुणों से स्वास्थ्य वर्धन करें। जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत जिले में नौ लाख से अधिक पौधे तैयार कराए जाने हैं। यह योजना 5 वर्ष के लिए बनाई गई है। जिसमें पहले वर्ष 50 फ़ीसदी आबादी तक इन पौधों को पहुंचाया जाएगा। पहले वर्ष 1 लाख 10 हजार औषधीय पौधे वितरित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इस वर्ष के वन महोत्सव की थीम भी घर-घर औषधि रखी गई है जिसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधों का रोपण जिले भर में किया जाएगा।

उप वन संरक्षक सोनल जोरीहार ने बताया कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में औषधीय पौधों का वितरण क्षेत्र के प्रमुख विद्यालयके माध्यम से किया जाएगा जबकि नगरीय निकाय क्षेत्रों में नगर परिषद एवं नगर पालिका के माध्यम से पौधों का वितरण कराया जाएगा।

इस अवसर पर सीईओ जिला परिषद मुरलीधर प्रतिहार उपखंड अधिकारी ललित गोयल महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के संयोजक राजकुमार माथुर एवं अन्य पदाधिकारी विभिन्न विभागों के अधिकारी कर्मचारी एवं गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top