Monday, July 22, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिपश्चिम रेलवे मुख्‍यालय में नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक सम्‍पन्‍न

पश्चिम रेलवे मुख्‍यालय में नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक सम्‍पन्‍न

मुंबई। केंद्रीय सरकारी कार्यालयों की नगर राजभाषा कार्यान्‍वयन समिति की इस वर्ष की द्वितीय छमाही बैठक पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री अशोक कुमार मिश्र की अध्‍यक्षता में 18 अक्‍टूबर, 2023 को संपन्‍न हुई। समिति के अध्‍यक्ष श्री मिश्र ने समिति के सदस्‍यों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्रीय सरकारी कार्यालयों की नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति राजभाषा के प्रचार-प्रसार और प्रयोग को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। संसदीय राजभाषा समिति के नियमिति निरीक्षण को देखते हुए राजभाषा में अत्‍यावश्‍यक रुप से बताए गए कार्य यथा- विजिटिंग कार्ड, कार्यालय एवं अधिकारियों का नाम पट्ट, सूचना पट्ट, धारा-3(3) के अंतर्गत आने वाले कागजात आदि निश्चित ही राजभाषा में किए जाएं। कार्यालय प्रमुख स्‍वयं हिंदी में कार्य करेंगे तो स्‍वत: ही राजभाषा का प्रचार-प्रसार बढ़ेगा और अन्‍य अधिकारी/कर्मचारी भी अपना अधिकांश कार्य हिंदी में करने हेतु प्रोत्‍साहित होंगे। उन्‍होंने सभी कार्यालयों से अनुरोध किया कि वे अपने कार्यालय की वेबसाइट निश्चित रूप से चेक करें। राजभाषा नियमानुसार वे द्विभाषी में होनी चाहिए और समय-समय पर जो सामग्री उनमें अपलोड की जाती हैं, वे भी द्विभाषी में हों और कार्यालय की वेबसाइट डिफॉल्‍ट रूप से हिंदी में ही खुले।

पश्चिम रेलवे के मुख्‍य जनसंपर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार बैठक के प्रारंभ में पश्चिम रेलवे के मुख्‍य राजभाषा अधिकारी श्री एस. के. अलबेला ने समिति के अध्‍यक्ष श्री अशोक कुमार मिश्र एवं सभी सदस्‍यों का स्‍वागत किया। अपने संबोधन में मुख्‍य राजभाषा अधिकारी ने कहा कि भारत सरकार की राजभाषा नीति प्रेरणा, प्रोत्साहन और सद्भावना पर आधारित है। सभी को राजभाषा संबंधी अनुदेशों का पालन गंभीरतापूर्वक करना चाहिए। राजभाषा में कार्य केवल संवैधानिक बाध्‍यता के तौर पर न करें, बल्कि मन से करें। जब तक अंत:मन से राजभाषा में कार्य करने के प्रयास नहीं किए जाएंगे तब तक हम अपने कार्यालयों में राजभाषा का प्रयोग नहीं बढ़ा सकते हैं।

इस बैठक में मुंबई स्थित केंद्र सरकार के कार्यालयों में अप्रैल-2023 से सितम्‍बर-2023 के दौरान राजभाषा कार्यान्‍वयन में हुई प्रगति पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में समिति के सभी सदस्‍य कार्यालयों में अप्रैल-2023 से सितम्‍बर-2023 के दौरान राजभाषा कार्यान्‍वयन में हुई प्रगति संबंधी आंकड़ों को समिति के सदस्‍य सचिव डॉ. रोशनी खुबचंदानी द्वारा प्रस्‍तुत किया गया और राजभाषा कार्यान्‍वयन में हुई प्रगति की समीक्षा की गई और कार्यालयों में राजभाषा को लागू करने के लिए कई सार्थक एवं नीतिगत निर्णय लिये गये।

बैठक में प्रधान कार्यालय-मध्‍य रेल, मुंबई सेंट्रल मंडल-पश्चिम रेलवे, मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय-मध्‍य रेल, क्षेत्रीय कार्यालय-मुंबई भौतिक चिकित्‍सा एवं पुनर्वास संस्‍थान, रक्षा लेखा प्रधान नियंत्रक (नौसेना), क्षेत्रीय मौसम विभाग, कर्मचारी राज्‍य बीमा आयोग, कर्मचारी चयन आयोग, परमाणु ऊर्जा विभाग, फिल्‍म प्रभाग, प्रधान निदेशक-लेखापरीक्षा (नौवहन), मुंबई, जनगणना कार्य निदेशालय, राजस्‍व आसूचना निदेशालय, मूल्‍यांकन निदेशालय, केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो, कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय, भारतीय मात्स्यिकी सर्वेक्षण,प्रधान मुख्‍य आयकर आयुक्‍त कार्यालय, राष्‍ट्रीय जन स्‍वास्‍थ्‍य प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्‍थान आदि केंद्र सरकार के कार्यालयों के विभागाध्‍यक्ष एवं प्रतिनिधि उपस्थित थे। अंत में बैठक का समापन वरिष्‍ठ राजभाषा अधिकारी श्री सुरेश चंद्र के धन्‍यवाद ज्ञापन के साथ हुआ।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार