आप यहाँ है :

दो दिवसीय राष्‍ट्रीय संगोष्‍ठी हेतु शोध पत्र आमंत्रित

भारतीय जन संचार संस्‍थान (आईआईएमसी) एवं भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद् (आईसीएचआर) के संयुक्त तत्वावधान में 27 एवं 28 अप्रैल, 2022 को आईआईएमसी के नई दिल्‍ली परिसर में ‘भारतीय मीडिया एवं स्‍वतंत्रता आंदोलन’ विषय पर दो दिवसीय राष्‍ट्रीय संगोष्‍ठी का आयोजन किया जा रहा है। प्रो. (डॉ.) प्रमोद कुमार, संयोजक ,राष्ट्रीय संगोष्‍ठी ने बताया कि संगोष्ठी के अंतर्गत अपने शोध पत्र प्रस्‍तुत करने के इच्‍छुक शिक्षाविद् एवं शोधकर्ता 8 अप्रैल, 2022 तक निम्‍नलिखित उप विषयों पर शोध पत्र का सारांश [email protected] पर भेज सकते हैं:
उप विषय
– लोक माध्यम एवं भारतीय स्‍वाधीनता संग्राम
– प्रेस और भारत का विभाजन
– ब्रिटिश काल के दौरान दृश्‍य श्रव्‍य माध्यम एवं राष्‍ट्रीय जागरण
– औपनिवेशिक भारत में प्रतिबंधित प्रेस
– क्षेत्रीय भाषाई मीडिया एवं स्वतंत्रता आंदोलन
– महिला, मीडिया और स्वराज के लिए संघर्ष
– स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान औपनिवेशिक आख्यान और मीडिया

भेजे गए सारांशों का आकलन उनके सैद्धांतिक अथवा शोध योगदान, महत्‍व और मौलिकता, कार्य पद्धति, लेखन की गुणवत्ता और कार्य की प्रासंगिकता के आधार पर किया जाएगा। संगोष्‍ठी के दौरान केवल उन्‍हीं शोध पत्रों को प्रस्‍तुत करने की अनुमति दी जाएगी, जो 24 अप्रैल, 2022 तक संगोष्‍ठी आयोजन समिति को भेजे जाएंगे।

अधिक जानकारी के लिए संगोष्‍ठी विवरणिका को देख सकते हैं। सभी प्रतिभागियों को संगोष्‍ठी के लिए पंजीकरण कराना अनिवार्य है। पंजीकरण का लिंक है :
https://forms.gle/PbCd1scMA4KX7uKv9

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top