ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

स्टेट बैंक लेकर आया कोरोना रक्षक पॉलिसी

देश में कोरोना वायरस का तांडव लगातार बढ़ रहा है। प्रवासियों को वापस अपने घर लौटने पर मजबूर है। वहीं अस्पताल में मरीजों की संख्या पर लगाम नहीं लगा रहा है। सरकारी से लेकर प्राइवेट हॉस्पिटल में जगह फुल हैं। ऐसे में सरकार अतिरिक्त बेड का इंतजाम कर रही हैं। वहीं लाखों गरीब और मध्यम वर्ग के लोग कोरोना का इलाज कराने में असमर्थ है। कई प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना इलाज के लिए मनमानी फीस वसूली जा रही हैं। यहां तक की दवाईयां भी बेहद महंगी आ रही है।

ऐसे में भारतीय स्टेट बैंक एक कोरोना रक्षक पॉलिसी लेकर आई है। इसमें बैक कोविड महामारी से निपटने लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है। इस स्कीम में 18 साल से लेकर 65 वर्ष के लोग लाभ ले सकते हैं। कोरोना रक्षक पॉलिसी (Corona Rakshak Policy) में 50 हजार से लेकर दो लाख 50 हजार रुपए की सहायता एसबीआई (SBI) द्वारा दी जा रही हैं। स्टेट बैंक के ग्राहक कोरोना रक्षक पॉलिसी का लाभ उठा सकते हैं। एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस कंपनी कोविड में उनके सभी चिकित्यकीय खर्च का ध्यान रखेगा। आइए जानते हैं एसबीआई के कोरोना रक्षक पॉलिसी के बारे में।

1. एसबीआई कोरोना रक्षक पॉलिसी एक स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा योजना है।

2. भारतीय स्टेट बैंक की कोविड पॉलिसी बिना किसी मेडिकल टेस्ट के जारी होती है। वह बीमित राशि का 100 प्रतिशत एकमुश्त भुगतान का लाभ प्रदान करती है।

3.कोरोना रक्षक पॉलिसी खरीदने की न्यूनतम आयु 18 वर्ष है।

4.एसबीआई कोरोना रक्षक पॉलिसी की मुख्य विशेषता है कि यह सिंगल प्रीमियम रेंज में दी जाती है।

5.कोरोना रक्षक पॉलिसी में न्यूनतम प्रीमियम 156 रुपए और अधिकतम 2,230 रुपए का भुगतान किया जा सकता है।

6. स्टेट बैंक के कोरोना रक्षक पॉलिसी में 105 दिन, 195 दिन और 285 दिन की अवधि है।

7. पॉलिसी में न्यूनतम 50 हजार और अधिकतम दो लाख पचास हजार रुपए का कवर मिलता है।

8. 50 हजार रुपए का कवर पाने के लिए 157 रुपए का भुगतान करना होगा।

9. ग्राहक कोरोना पॉलिसी के बारे में अधिक जानकारी के लिए 022-27599908 पर मिस्ड कॉल देकर ले सकते हैं।

10.एसबीआई कोरोना रक्षक पॉलिसी के बारे में अधिक जानकारी के लिए ये साईट देखें
https://www.sbilife.co.in/en/individual-life-insurance/traditional/corona-rakshak

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top