आप यहाँ है :

स्टेट बैंक के डेबिट कार्ड 31 दिसंबर को अपने आप बंद हो जाएंगे

सबीआई ने पुराना एटीएम कार्ड (डेबिट कार्ड) बंद करने का ऐलान किया है। ये पुराने कार्ड मैजिस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड 31 दिसंबर से अपने आप बंद हो जाएंगे। इनके एवज में बैंक नए जमाने के चिप वाले ईएमवी कार्ड दे रहा है। मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड सुरक्षा के लिहाज से कमजोर हैं इसीलिए ऐसे कार्डों को चिप वाले कार्ड में तब्दील किया जा रहा है। इसके एवज में बैंक कोई भी शुल्क नहीं ले रहे हैं। एसबीआई की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक पुराने एटीएम कार्ड बदलकर उनकी जगह चिप वाला डेबिट कार्ड जारी किया जा रहा है।

नए कार्ड के लिए ऑनलाइन बैंकिंग से आवेदन कर सकते हैं। अपनी बैंक शाखा जाकर भी नए कार्ड के लिए आवेदन किया जा सकता है। पुराने डेबिट कार्ड के पीछे की तरफ एक काली पट्टी नजर आती है। यही काली पट्टी मैग्नेटिक स्ट्रिप है, जिसमें आपके खाते की पूरी जानकारी दर्ज होती है। एटीएम में स्वैप करने के बाद पिन नंबर डालते ही खाते से पैसे निकल आते हैं।

मैग्नेटिक कार्ड पूरी तरह से सुरक्षित नहीं हैं। हैकरों के निशाने पर सबसे ज्यादा यही कार्ड आते हैं। चिप वाले डेबिट या क्रेडिट कार्ड पर एक छोटी चिप लगी होती है, जिसमें खाते की पूरी जानकारी होती है। यह जानकारी इनक्रिप्टेड होती है। चिप कार्ड में ट्रांजैक्शन के दौरान सत्यापित करने के लिए एक यूनिक ट्रांजेक्शन कोड जनरेट होता है। मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड में ऐसा नहीं होता है, यही वजह है कि चिप वाले कार्ड की हैकिंग या इसे फ्रॉड की संभावना बेहद कम है

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top