आप यहाँ है :

अब रेल कर्मचारियों की सुरेश प्रभु से होगी ‘मन की बात’

रेल कर्मचारियों की समस्याओं को सीधे-सीधे सुनने के इरादे से रेलमंत्री श्री सुरेश प्रभु ने ऑनलाइन शिकायत सिस्टम बनाने का फैसला किया है. ‘निवारण’ नाम से बनाई जाने वाली इस ऑनलाइन सर्विस का फायदा तकरीबन 27 लाख रेलवे कर्मचारियों और पेंशनरों को होगा.

श्री सुरेश प्रभु ने निवारण ऑनलाइन सुविधा 24 जून को शुरू करने का निर्देश दिया है. रेलवे में 13 लाख 26 हजार कार्यरत कर्मचारी हैं और 13 लाख 79 हजार पेंशनर हैं. रेल कर्मचारियों की तमाम समस्याओं के निपटारे को आसान बनाने के इरादे से ‘निवारण ऑनलाइन सेवा’ शुरू की जा रही है.

‘निवारण’ के तहत मेडिकल क्लेम, पेंशन क्लेम, नियुक्ति, प्रतिनियुक्ति, घर और कॉलोनी संबंधी समस्याओं को बेहतर तरीके से निपटाया जा सकेगा. रेल कर्मचारी की शिकायतों को अगर संबंधित विभाग निश्चित समय सीमा में नहीं निपटा सकेगा, तो मामला सीधे रेलमंत्री के पास पहुंच जाएगा.

रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु हर महीने इस सिस्टम के जरिए उन तक पहुंचने वाली समस्याओं को निपटाने के लिए बैठक करेंगे. रेल विभाग के अधिकारियों का कहना है कि ये पहली बार होगा, जब कोई भी रेल कर्मचारी सीधे अपनी समस्याओं का समाधान न होने पर रेलमंत्री तक पहुंच सकेगा.

रेलवे ऑनलाइन निवारण सिस्टम को क्रिस के जरिए डेवलप कराएगी. मई तक यह ऑनलाइन सिस्टम बना लिया जाएगा और इसकी टेस्टिंग शुरू कर दी जाएगी. 24 जून को ‘निवारण’ को विधिवत शुरू कर दिया जाएगा.

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top