Sunday, March 3, 2024
spot_img
Homeजियो तो ऐसे जियोजीईएस में 13 साल का ये लड़का बना सबके आकर्षण का केंद्र

जीईएस में 13 साल का ये लड़का बना सबके आकर्षण का केंद्र

अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप के आगमन के साथ हैदराबाद में शुरू हुए वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन (जीईएस) में 1500 पहुंचे कारोबारी पहुंचे हैं। लेकिन इस सम्मेलन में पहुंचे 13 साल के लड़के ने सबका ध्यान आकर्षित किया है। यह लड़का अपनी विलक्ष प्रतिभा के कारण सुर्खियां बटोर रहा है। सम्मेलन में पहुंचे कारोबारियों में 13 साल का यह लड़का सबसे कम उम्र का उद्यमी है जो कि ऑस्ट्रेलिया का रहने वाला है। इस लड़के का नाम हमीश फिनलेसन है जो एक एप डेवलपर है।

वह स्वलीन (ऑटिस्टिक) है, मतलब ऐसे रोग से ग्रसित है, जिसमें बच्चा अपने आप में खोया रहता है। मगर इससे उसके काम पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है और उसने पांच एप्स बनाए हैं। इनमें एक एप ऐसा है, जो ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसॉर्डर (एएसडी) से पीड़ित मरीजों की मदद करने में सहायक है।

10 साल की उम्र में उसने अपना पहला एप ‘लिटरबगस्माश’ बनाया था। 2016 के सम्मेलन में भी भाग ले चुका है हमीश। खबरों के मुताबिक हामिश दूसरी बार जीईएस में शामिल हुए हैं। इससे पहले उन्होंने 2016 में सिलिकॉन वैली में आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया था। उन्होंने यहां हैदराबाद में कहा वह लोगों से वर्चुअल रियलिटी (आभासी हकीकत) के बारे में जानना चाहते हैं। हमीश लोगों से कौशल यानी स्किल्स के में बारे में बातचीत करने के इच्छुक हैं। बताया जा रहा है कि हमीश का फेवरेट सब्जेक्ट मैथ और कोडिंग करना है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार