Wednesday, May 29, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिमहिलाओं के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता के लिए पश्चिम रेलवे महिला कल्याण...

महिलाओं के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता के लिए पश्चिम रेलवे महिला कल्याण संगठन की एक अनूठी पहल

पश्चिम रेलवे महिला कल्याण संगठन (WRWWO) द्वारा की गई विभिन्न गतिविधियों और समाजोपयोगी पहलों के क्रम में संगठन ने विभिन्न स्वास्थ्य मुद्दों के बारे में महिलाओं को जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य जागरूकता संगोष्ठियों की एक अभिनव श्रृंखला शुरू की है। पश्चिम रेलवे महिला कल्याण संगठन की अध्‍यक्षा श्रीमती तनुजा कंसल के नेतृत्‍व में हाल ही में पश्चिम रेलवे मुख्यालय, चर्चगेट में ‘मासिक धर्म स्वच्छता और मेनोपॉज’ विषय पर एक स्‍वास्‍थ्‍य संगोष्‍ठी का आयोजन किया गया।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार संगोष्ठी का संचालन जगजीवन राम अस्पताल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. निशा और डॉ. अनुजा द्वारा एक सूचनात्मक पावरपॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से किया गया। इस प्रस्तुति ने विषय के विभिन्न पहलुओं और स्वस्थ दृष्टिकोण एवं सकारात्मक मानसिकता के महत्व को साझा किया। डॉक्टरों ने मेनोपॉज को समझने, महिलाओं पर इसके प्रभाव और मेनोपॉज के शारीरिक, सामाजिक और मनोवैज्ञानिक पहलुओं पर विस्‍तार से बात की। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि कैसे मेनोपॉज महिलाओं के शारीरिक संक्रमण के उम्र से संबंधित चरणों में से एक है। उन्होंने मासिक धर्म स्वच्छता, मासिक धर्म सहायता और मासिक धर्म के सामाजिक पहलुओं के महत्व पर भी चर्चा की। मासिक धर्म के दौरान महिलाओं की स्वच्छता संबंधी प्रथाओं का काफी महत्व है, क्योंकि प्रजनन पथ के संक्रमण (आरटीआई) की बढ़ती संवेदनशीलता के संदर्भ में इसका स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है। श्रीमती कंसल ने महिला कर्मचारियों को अपने संबोधन में कई कठिनाइयों का सामना करने के बावजूद अपने कर्तव्यों के प्रति उनके समर्पण की सराहना की।

उन्होंने कहा कि मुझे इस बात पर गर्व है कि महिलाओं ने अपने पेशेवर करियर में उन स्तरों को हासिल किया है, जो पहले पुरुषों के प्रभुत्व में थे। श्रीमती कंसल ने कहा कि जब भी कोई महिला रिकॉर्ड बनाती है, तो वह अभिभूत हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं को जीवन के कई कठिन चरणों से गुजरना पड़ता है और कई बार परिवार के साथ समायोजन में वे अपना ध्‍यान रखना भूल जाती हैं। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि महिलाओं को अपने स्वास्थ्य का पर्याप्‍त ध्यान रखना चाहिए और इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्‍योंकि कहीं ऐसा न हो कि इस लापरवाही से उन्‍हें कोई बड़ी बीमारी हो जाए। उन्होंने इस आधुनिक दुनिया में महिलाओं द्वारा निभाई जाने वाली कई भूमिकाओं और इस पितृ सत्तात्मक समाज में चुनौतियों पर काबू पाने के लिए “मैं आधुनिक नारी हूं” पर एक कविता की कुछ पंक्तियों का पाठ करके काव्यात्मक तरीके से अपनी भावनाओं को व्यक्त किया।

श्रीमती कंसल ने महिला कर्मचारियों को मासिक धर्म स्वच्छता और मेनोपॉज पर कठिन सवालों से न शर्माने और अपने दिल की बात साझा करने के लिए प्रोत्साहित किया। संगोष्ठी को प्रतिभागियों द्वारा खूब सराहा गया। श्री ठाकुर ने बताया कि पश्चिम रेलवे महिला कल्याण संगठन ने विशेष रूप से महिला कर्मचारियों को उनके कार्यस्थल पर प्रोत्साहित करने और मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए कई सराहनीय कल्याणकारी कार्य किए हैं। इससे पहले भी श्रीमती तनुजा कंसल के नेतृत्व में पश्चिम रेलवे महिला कल्याण संगठन ने महिला स्वास्थ्य और कैंसर जागरूकता पर एक सेमिनार का आयोजन किया था, जो बहुत ही जानकारीपूर्ण था। पश्चिम रेलवे महिला कल्याण संगठन राष्ट्रीय आपदाओं के समय में भी अपने वित्तीय योगदान और राहत सामग्री प्रदान करने में बखूबी समन्वय के साथ हमेशा उदार रहा है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार