ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

बजट के बाद ‘स्मार्ट’ होगी प्रभुजी की रेल

भारतीय रेलवे जल्‍द ‘स्मार्ट कोच’ मुहिम शुरू करने जा रहा है। इसका मकसद यात्रियों को ट्रेन में घर जैसा आराम देना है। नए स्‍मार्ट कोच में सुविधाओं के साथ ही सुरक्षा पर भी जोर दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक, कुछ ही दिनों बाद पेश होने जा रहे रेल बजट में ‘smart coaches’ से जुड़ी योजना के बारे में घोषणा की जा सकती है। ‘स्मार्ट कोच’ का इंटीरियर शानदार तो होगा ही, लेकिन इसमें कुछ खास सुविधाएं भी होंगी। इनमें सबसे अहम है हर कोच में जीपीएस आधारित अलार्म लगा होगा। कई बार यात्रियों को अपने स्‍टेशन के बारे में पता ही नहीं चलता और वह सोते रह जाते हैं। या फिर उन्‍हें जानकारी नहीं मिल पाती है। ऐसे में जीपीएस आधारित वेक-अप अलार्म काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। भारतीय रेलवे ‘स्मार्ट कोच’ में रिजर्वेशन चार्ट के लिए एलईडी और बर्थ इंडिकेटर भी लगाने की तैयारी कर रहा है।

इसके अलावा वाई-फाई की सुविधा भी उपलब्‍ध कराई जाएगी। नए कोच में विमान की तरह एनाउंसमेंट सिस्‍टम लगा होगा, जिसके जरिए दिन के समय महत्‍वपूर्ण घोषणाएं की जाएंगी। इसके अलावा कई विभिन्‍न सूचनाएं देने के लिए भी कई उपकरण ‘स्मार्ट कोच’ में लगाए जाएंगे। इसके अलावा रेलवे एक और खास सुविधा देने की तैयारी कर रहा है और वह है- ऑन-बोर्ड वेंडिंग मशीन। इसके जरिए यात्री पानी, चाय, कॉफी के साथ कई और ड्रिंक्‍स का मजा ले सकेंगे। रेलवे की नए ‘स्मार्ट कोच’ में प्रत्‍येक यात्री के लिए लैपटॉप और फोन चार्जिंग पॉइंट की व्‍यवस्‍था का ख्‍याल रखा गया है। इसके अलावा ऑटोमेटिक डोर, और माइक्रोप्रोसेसर बेस्‍ड एसी यूनिट भी लगाए जाने की तैयारी भी भारतीय रेलवे कर रहा है। ‘स्मार्ट कोच’में टॉयलेट्स भी बेहद खास होंगे। जानकारी के मुताबिक, रेलवे मॉड्यूलर बायो टॉयलेट्स लगाने की तैयारी कर रहा है। इसमें सेंसर आधारित होगा टैप और फ्लशिंग सिस्‍टम होगा। इसके अलावा ऑटोमेटिक सोप डिस्‍पेंसर और हैंड ड्रायर भी मॉड्यूलर बायो टॉयलेट्स में लगाए जाएंगे।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top