आप यहाँ है :

नारायण सिंह के खिलाफ बयान दिया तो रात हवालात में गुज़री

इन्दौर से पत्रिका ने खबर दी है कि इन्दौर में �नारायण सांई की पत्नी जानकी उर्फ शिल्पी और गार्ड सतीश वाधवानी के बयान लेकर गुजरात पुलिस शुक्रवार रात इंदौर से रवाना हो गई है। बयान देने के बाद जब गार्ड अपने त्रिवेणी नगर स्थित घर पर पहुंचा ही था कि जूनी इंदौर पुलिस पहुंच गई। दरअसल, एक गुंडे ने गार्ड के खिलाफ पत्नी के साथ छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवा दिया था। मामले में सतीश का कहना है, नारायण सांई और उसके सेवादारों ने ही यह षड़यंत्र रचा है।

सतीश को पुलिस ने रातभर लॉकअप में रखा। सुबह जमानत पर बाहर निकला। सतीश ने बताया, वह नारायण सांई और आसाराम के गार्ड था। 2011 तक उनके साथ था। विरोध करने पर छेड़छाड़ की झूठी रिपोर्ट दर्ज करवाकर मुझे डरा रहे हैं।�

सतीश ने बताया कि गुजरात पुलिस कल दोपहर मेरे बयान के बाद टीम ने शिल्पी का घर पूछा। मैं उन्हें लेकर शिल्पी के घर गया। रात सवा 9 बज चुकी थी। मैं वहां से टीम के साथ अपने घर आ गया। घर पहुंचा तो गुंडा और उसकी पत्नी खड़े थे। उन्होने मुझसे बात करना चाही। डर के कारण 100 नंबर पर कंट्रोल रूम फोन लगाया। फिर जूनी इंदौर थाने से दो पुलिसकर्मी आए। उन्होने मुझसे कहा, तुम्हारे खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज हुआ है। थाने पहुंचा तो पता चला, उस गुंडे ने ही केस दर्ज कराया है। पुलिस का कहना है कि फरियादी क्षेत्र का नामी बदमाश है। उस पर 10 से अधिक अपराध दर्ज है। सतीश का कहना है, नारायण सांई मुझे धमकियां दे रहा है। मेरे पास उसकी कॉल रिकार्डिग है। गवली पलासिया आश्रम के सेवादार चिंटू ने एक सप्ताह पहले मुझे धमकाया था जिसकी रिपोर्ट दर्ज कराई है।

पीए पकड़ाई तो सांई भी आ जाएगा गिरफ्त में

सतीश ने बताया, 1994 में उन्होंने आसाराम से दीक्षा ली थी। उसके बाद से वह 2011 तक आसाराम व नारायण सांई के साथ रहे। उसके बाद आसाराम और सतीश के बीच अनबन हो गई। सतीश को आसाराम ने पिटवाया था। आसाराम का अहमदाबाद में महिला आश्रम था। वहीं, नारायण सांई ने हिम्मतनगर के गामदोई के आश्रम में महिला आश्रम बनाया। इनमें वे काले कारनामों को अंजाम देते थे। साढ़े 3 बजे रात को नारायण सांई के रूम से लड़कियां बाहर आती थी। नारायण सांई की पीए मोनिका अग्रवाल निवासी दिल्ली भी गायब है। मोनिका की उसके पिता पुरूषोत्तम से फेसबुक पर बात होती रहती है। यदि पुलिस उसे पकड़ लेगी तो नारायण सांई भी पकड़ा जाएगा। बयान में शिल्पी ने पुलिस को बताया, वह नारायण की करतूतों से बहुत दु:खी है। शिल्पी नारायण सांई से तलाक लेने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी।

.

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top