Thursday, July 25, 2024
spot_img
Homeआपकी बातआनन्द कुमार पाण्डेय चिंरजीवी हो!

आनन्द कुमार पाण्डेय चिंरजीवी हो!

आज 24सितंबर,2022 है। आज ही के दिन मेरे छोटे बेटे आनन्द कुमार पाण्डेय का जन्म 1986 में हुआ। आनन्द की आरंभिक शिक्षा भुवनेश्वर काण्वेंट स्कूल की नर्सरी कक्षा से हुई। उसके उपरांत केन्द्रीय विद्यालय नं.1,यूनिट-9,भुवनेश्वर में।कैशियो वादन का काफी शौक था जो आज भी है जिसे उसकी सुपुत्री कश्वि पाण्डेय अनन्द के सानिध्य में पूरा कर रही है। 1999 में मैं डेपुटेशन पर मास्को राजदूतावास स्थित मास्को केन्द्रीय विद्यालय में हुई। मेरा बडा बेटा अनुप वहीं से बारहवीं किया तथा आनन्द वहीं से दसवीं सीबीएसई बोर्ड परीक्षा पास किया।

आनन्द को कैशियो बजाने का बडा शौक था इसलिए उसे मैंने काफी महंगा कैशियो खरीदकर दे दिया। आनन्द मास्को राजदूतावास के 26जनवरी तथा 15अगस्त के सांस्कृतिक कार्यक्रमों में कैशियो बजाबजाकर इण्डियन कम्यूनिटी के लोगों को को खुश कर देता था। अपने डेपुटेशन के वापस लौटने पर मैंने आनन्द का नामांकन ग्यारहवीं विज्ञान में केन्द्रीय विद्यालय नं.1,यूनिट-9,भुवनेश्वर में करा दिया। सीबीएसइ से विज्ञान में बारहवीं करने के उपरांत आनन्द उत्त्कल विश्वविद्यालय से बीबीए किया। उसके उपरांत कीट डीम्ड विश्वविद्यालय से एमबीए कर आनन्द देश-विदेश के अनेक कंपनियों में मैनेजर का काम किया। आनन्द कुमार पाण्डेय का विवाह 2015 में आयुष्मती ज्योति पाण्डेय हाईली एडुकेटेड सुंदर-सुशील कन्या से हुआ। अपनी सुपुत्री कश्वी के जन्म से पहले ज्योति पाण्डेय कालेज में पढाती थी। आनन्द कुमार पाण्डेय फिलहाल बैंगलुरु की एक नामी फारमास्यूटिकल कंपनी में उच्च प्रबंधन पद पर कार्यरत है । मैंने अपने अर्थाभाव के कारण आनन्द को भी और अधिक उच्च शिक्षा नहीं दे पाया।इस बात का मुझे आजीवन दुख रहेगा। आज एक सुखी गृहस्थ-जीवन आनन्द-ज्योति,पति-पत्नी तथा अपनी सुपुत्री कश्वी पाण्डेय के साथ व्यतीत कर रहे हैं।

कश्वी पूरे अशोक पाण्डेय-परिवार तथा गोविंद जी परिवार (दादू-नानू) की प्राण है।24सितंबर को आनन्द को उसके हैप्पी बर्थडे पर मेरी ओर से मेरी पत्नी श्रीमती आशा पाण्डेय तथा बडे बेटे अनुप कुमार पाण्डेय तथा अपने समधी जी श्री गोविंदजी पाण्डेय-परिवार की ओर से बहुत-बहुत बधाई और अनेकानेक शुभकामनाएं।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार