Monday, June 17, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिकचरा मुक्त शहरों को समर्थन देने के लिए लाखों युवाओं के साथ...

कचरा मुक्त शहरों को समर्थन देने के लिए लाखों युवाओं के साथ जानी-मानी हस्तियां भारतीय स्वच्छता लीग में शामिल होंगी

आरा योद्धाज, वाराणसी वॉरियर्स, बारबाती बेकन्स, ग्रीन गार्जियन ऑफ गांधीनगर, नवी मुंबई ईसीओ नाइट्स, चंडीगढ़ चैलेंजर्स, इनक्रेडिबल स्वच्छ इंदौरिज नाम किसी खेल की टीम के नाम नहीं हैं। ये सभी उन टीमों के नाम हैं जिसे लाखों उत्साही युवकों ने भारतीय स्वच्छता लीग में भाग लेने के लिए बनाए हैं। भारतीय स्वच्छता लीग की ये टीमें अपने शहरों को कचरा मुक्त बनाने के लिए व्यापक अभियान लॉन्‍च करेंगी। केन्द्रीय आवासन तथा शहरी कार्य मंत्रालय के तत्वावधान में 17 सितंबर 2022 को भारतीय स्वच्छता लीग का आयोजन किया जा रहा है। केन्द्रीय मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी ने 9 सिंतबर 2022 को भारतीय स्वच्छता लीग प्रारंभ किए जाने की घोषणा की थी। 1800 से अधिक शहरों ने भारतीय स्वच्छता लीग के लिए पंजीकरण कराया है। एक मिलियन से अधिक आबादी वाले 47 शहरों ने लीग के लिए पंजीकरण कराया है। शहरी स्थानीय निकाय के प्रतिशत आधार पर अधिकतम भागीदारी के साथ शीर्ष तीन राज्य भाग ले रहे हैं। ये हैं- ओडिशा 100 प्रतिशत, असम 99 प्रतिशत और छत्तीसगढ़ 97 प्रतिशत।

युवाओं के नेतृत्व वाली इस अनूठी प्रतियोगिता में क्रिकेट खिलाड़ी वेंकटेश अय्यर, इनक्रेडिबल इंदौरिज के लिए भाग लेंगे। जाने-माने गायक और पद्म पुरस्कार विजेता शंकर महादेवन नवी मुंबई ईसीओ नाइट्स को, सांसद और अत्रिनेत्री किरण खेर, गायक बी. प्राक, ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिन्द्रा चंडीगढ़ चैलेंजर्स को समर्थन देंगे ताकि समुद्री किनारे, पहाड़ियों और पर्यटक स्थलों की सफाई की जा सके। स्थानीय राजनीतिक प्रतिनिधि तथा अति महत्वपूर्ण व्यक्ति, मंत्री, सांसद, विधायक, मेयर, पार्षद, ब्रॉंड एम्बेस्डर भी अनेक गतिविधियों को हरी झंडी दिखाएंगे और लोगों की भागीदारी बढ़ाने में सहयोग देंगे। चंडीगढ़ के पार्षद महेशिन्दर सिंह सिद्धू, तिरुपति के मेयर बी.आर. सिरिशा, तिरुपति की आयुक्त अनुपमा अंजलि, तिरुपति के विधायक भूमन करूणाकर रेड्डी, इंदौर के मेयर, आई.एम.सी. पुष्यमित्र भार्गव लीग में शामिल हुए हैं।

शहर की टीमें स्मारकों, पर्यटक आकर्षण वाले स्थानों तथा समुद्री तटों के पास के स्थानों की साफ-सफाई के लिए स्पर्धा करेंगी। इन स्थानों पर काफी संख्या में लोग आते हैं। गया में विष्णुपद, सीता कुंड, अक्षयवटी, आगरा में ताजगंज, अयोध्या में नयाघाट, फतेहपुर सिकरी में बुलंद दरवाजा, लखनऊ में लालबाग, वाराणसी में अस्सी घाट, गुजरात में साबरमती रिवरफ्रंट पर अटल ब्रिज, गांधी आश्रम, गांधीनगर में सरदार पटेल मूर्ति, गोमती नदी, मुंबई में कफ परेड, वर्ली फोर्ट, जुहू पट्टी, इंदौर में मेघदूत गार्डन, लोनावला में खंडाला झील जैसे अनेक ऐसे स्थान हैं जहां ये टीमें साफ-सफाई का काम करेंगी।
https://innovateindia.mygov.in/swachhyouthrally/ पर पंजीकरण जारी है और 17 सिंतबर 2022 के शाम 6 बजे तक यह लाइव रहेगा।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार