ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

पश्चिम रेलवे पर नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक सम्‍पन्‍न

मुंबई। केन्‍द्रीय सरकारी कार्यालयों की नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल की अध्यक्षता में चर्चगेट स्थित प्रधान कार्यालय में सम्पन्न हुई। इस बैठक में मुंबई स्थित परमाणु ऊर्जा विभाग, सीमा शुल्‍क कार्यालय, भौतिक चिकित्‍सा एवं पुनर्वास, समुद्री वाणिज्‍य विभाग, मध्य रेलवे, वाणिज्यिक लेखा परीक्षा, आकाशवाणी, क्षेत्रीय यूनानी चिकित्‍सा अनुसंधान संस्‍थान, केंद्रीय लोक निर्माण विभाग, बुनकर सेवा केंद्र, आयकर तथा केंद्रीय उत्पाद शुल्क कार्यालय आदि केन्‍द्र सरकार के कार्यालयों के विभागाध्‍यक्ष शामिल हुए। इस बैठक में गृह मंत्रालय के उपनिदेशक डॉ. राकेश कुमार भी उपस्थित थे।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार समिति के अध्‍यक्ष एवं पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल ने आज़ादी के अमृत महोत्‍सव का उल्‍लेख करते हुए कहा कि सरकारी कार्यालयों में हिंदी के प्रयोग को बढ़ाना एक राष्‍ट्रीय कार्य है, क्‍योंकि भारत की आम जनता हिंदी को अच्‍छी तरह समझती है और इसका प्रयोग करती है। हिंदी भारत की सामाजिक एवं सांस्‍कृतिक धरोहर की संवाहिका है। उन्‍होंने मुंबई में स्थित केंद्र सरकार के कार्यालयों के प्रमुखों को उनके विभागों की वेब-साइटों पर अंग्रेजी के साथ-साथ हिंदी के सरल एवं प्रचलित शब्‍दों में हिंदी में सामग्री को अपलोड करने का आग्रह किया। उन्‍होंने कहा कि सभी प्रशासनिक प्रमुख स्‍वयं हिंदी में कार्य करके अपने अधीनस्‍थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों को हिंदी में काम करने के लिए प्रेरित एवं प्रोत्‍साहित कर सकते हैं।

अध्‍यक्ष ने समिति द्वारा प्रकाशित की जाने वाली राजभाषा पत्रिका के लिए सभी को अपने-अपने लेख भेजने के लिए कहा और सभी मदों में राजभाषा नियमों के अनुसार राजभाषा का प्रयोग करने का आग्रह किया। समिति द्वारा अलग-अलग सदस्‍य कार्यालयों में 10 हिंदी प्रतियोगिताएँ आयोजित करने का निर्णय लिया गया और इनमें सफल केन्‍द्र सरकार के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को अध्‍यक्ष महोदय द्वारा अगली बैठक में नकद पुरस्‍कार राशि एवं योग्‍यता प्रमाण-पत्रों से सम्‍मानित किया जाएगा। इस अवसर पर यह भी निर्णय लिया गया कि समिति के 3 सदस्‍य कार्यालयों को वर्ष 2021-22 के दौरान राजभाषा में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने के लिए अध्‍यक्ष महोदय द्वारा अगली बैठक में राजभाषा शील्‍ड और प्रशस्ति पत्र से सम्‍मानित किया जाएगा। बैठक के दौरान अध्यक्ष महोदय ने समिति के सदस्‍य कार्यालयों में राजभाषा हिंदी में हो रहे कार्यों की प्रशंसा की। बैठक में समिति के सभी सदस्‍य कार्यालयों में अप्रैल से सितंबर, 2021 के दौरान राजभाषा कार्यान्वयन में हुई प्रगति संबंधी आंकड़ों को समिति के सदस्‍य सचिव डॉ. सुशील कुमार शर्मा द्वारा प्रस्‍तुत किया गया और राजभाषा कार्यान्‍वयन में हुई प्रगति की समीक्षा की गयी।

प्रारंभ में पश्चिम रेलवे के मुख्‍य राजभाषा अधिकारी श्री सुरेन्‍द्र कुमार ने समिति के अध्‍यक्ष, गृह मंत्रालय के उप निदेशक तथा बैठक में उपस्थि‍त सदस्‍य कार्यालयों के प्रमुख विभागाध्‍यक्षों एवं प्रतिनिधियों का स्‍वागत किया। उन्‍होंने कहा कि हिंदी ने हिंदी ने भारत की स्‍वतंत्रता में भी अमूल्‍य योगदान दिया था और आज भी इसकी भूमिका प्रासंगिक है। भारत सरकार की सभी कल्‍याणकारी योजनाओं की सफलता में हिंदी महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रही है। बैठक का संचालन सदस्य सचिव एवं उप महाप्रबंधक (राजभाषा) डॉ. सुशील कुमार शर्मा ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी श्री अशोक कुमार ने किया।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top