Saturday, June 15, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिशाह, जैन और मजेरा को दर्शन सागर अवॉर्ड

शाह, जैन और मजेरा को दर्शन सागर अवॉर्ड

राष्ट्रसंत चन्द्रानन सागर के सानिध्य में भव्य समारोह, सूरत में हुआ भव्य अभिनंदन

मुंबई। राष्ट्रीय स्तर पर प्रदान किया जानेवाला ‘दर्शन सागर अवॉर्ड’ इस बार नाकोड़ा दर्शन धाम के अध्यक्ष कांतिलाल शाह, मुंबई के कवि युगराज जैन एवं अहमदाबाद के समाजसेवी ओमप्रकाश मेहता मजेरा को दिया गया। राष्ट्रसंत आचार्य चन्द्रानन सागर सूरीश्वर महाराज के सानिध्य में आयोजित एक विशेष समारोह में तीनों को साफा, माला व शॉल पहनाकर श्रीफल भेंट करके स्मृति चिन्ह प्रदान करके उनका नागरिक अभिनंदन किया गया।

दर्शन सागर अवॉर्ड समिति के प्रवीण शाह एवं निरंजन परिहार ने यह जानकारी दी। देश के विभिन्न स्थानों से आए समाजसेवियों, उद्योगपतियों व धर्म प्रेमियों की उपस्थिति में सूरत के पाल इलाके में आयोजित इस समारोह में महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री राज के पुरोहित विशिष्ट अतिथि थे।

विख्यात गच्छाधिपति दर्शन सागर सूरीश्वर महाराज की नाम पर यह प्रतिष्ठित सम्मान राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षा, चिकित्सा और समाजसेवा के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य के लिए हर साल तीन विशिष्ट लोगों को प्रदान किया जाता है। दादा गुरुदेव दर्शन सागर जी की 29वीं पुण्यतिथि पर नाकोड़ा दर्शन धाम ट्रस्ट के अध्यक्ष कांतिलाल शाह, कवि युगराज जैन एवं ओमप्रकाश मेहता मजेरा का धार्मिक कार्यों, संस्कृति तथा समाज सेवा में बड़ा योगदान रहा है। इस अवसर पर पूर्व मंत्री पुरोहित व चन्द्रानन सागर ने शताब्दी गौरव के क्षमापना विशेषांक का लोकार्पण किया तथा राष्ट्रसंत चन्द्रानन सागर ने तीनों अभिनंदन मूर्तियों को समाज सेवा, शिक्षा, धर्म व संस्कृति के कार्यों को लगातार आगे बढ़ाने में जुटे रहने का आशीर्वाद किया। पूर्व मंत्री राज के पुरोहित ने तीनों महानुभावों के कार्यों की प्रशंसा करते हुए नई पीढ़ी से उनके अनुसरण की अपील की।

दर्शन सागर अवॉर्ड समिति के प्रवीण शाह के मुताबिक राष्ट्रसंत राष्ट्रसंत आचार्य चन्द्रानन सागर सूरीश्वर के सान्निध्य में दिये जाने वाले इस अवॉर्ड समारोह में सूरत के पाल इलाके में आयोजित इस भव्य कार्यक्रम में महाराष्ट्र सहित तमिलनाडु, कर्नाटक, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली सहित देश के कई अन्य प्रांतों व विभिन्न शहरों से उद्योग, व्यापार जगत के कई प्रमुख लोगों सहित करीब एक हजार से भी ज्यादा प्रतिष्ठित लोग उपस्थित थे। चन्द्रानन सागर महाराज के महामांगलिक प्रवचन से समारोह का समापन हुआ। दर्शन सागर अवॉर्ड समिति ने समारोह में पधारने पर सभी का आभार व्यक्त किया है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार