ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

दिल्ली/एनसीआर की निम्न एवं मध्यम आय वाली महिलाओं के लिए माला-महिला आवास योजना

माला 2022 तक सभी को घर देने के भारत सरकार के मिशन के अनुरूप घर खरीदने की अभिलाषा पूरी करने का निष्ठावान प्रयास

निम्न मध्यम आय वाले परिवारों की घर खरीदने में मदद करने के उद्देश से उन्हें आवास वित्त सहायता प्रदान करने के बिजनेस दर्शन के साथ एस्पायर होम फाइनेंस कार्पोरेशन लि. ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए टार्गेट एलएमआई क्षेत्र की कामकाजी महिलाओं के वित्तीय समावेशन में भूमिका अदा करने की योजना बनायी है। इसके लिए कंपनी ने नई दिल्ली में माला-महिला आवास लोन फ्राॅम एस्पायर लाँच किया है। यह निम्न एवं मध्य आय वर्ग की कामकाजी महिलाओं को आवास वित्त एवं परामर्श मदद प्रदान करने वाला होम लोन विभाग है। माला को निजी कंपनियों, लघु उद्योगों में काम करने वाली वेतनभोगी महिला कर्मचारियों, नर्सिंग एवं पेरामेडिक परिचरों, हाउसकीपिंग स्टाफ, स्कूलों /कालेजों में चपरासी, नौकरानी, कूक आदी को और अपना कारोबार करने वाली स्वयं रोजगारी महिलाओं, सब्जी और फल विक्रेता, बुनाई, अगरबत्ती बनाना, पापड़ बनाना, रेडिमेड गार्मेंट बनाना, कम समय के लिए किचन चलाना, टेलरिंग, लाँड्री, ट्य्ाूटरिंग, वेडिंग कांट्रैक्टर आदि को 2 लाख रू. से 12 लाख रू. तक का लोन प्रदान करने के लिए तैयार किया गया है।

निम्न आय वर्ग की कामकाजी महिलाएं उपेक्षित रही है और अभी तक उनके वित्तीय समावेशन के लिए नाममात्र प्रयास हुआ है। वित्तीय विकल्पों के अभाव के कारण अधिकांशतः उनके घर की तलाश की जरूरत पर ध्यान नहीं दिया जाता। माला के मार्फत AHFCL ने स्थिति में बदलाव लाने का प्रयास किया है तथा वह इस वर्ग की पात्र महिलाओं को घर खरीदने के लिए ऋण उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य करेगी। उन्हें वित्तीय मुख्य धारा में शामिल करने के उद्देश्य से माला प्रोग्राम अपने अनुभवी आवास वित्त प्रोफेशनलों के मार्फत इन महिलाओं की ठोस बैंकिंग आदतें विकसित करने एवं भविष्य के लिए बचत करने में मदद करेगा। माला इन महिलाओं की घर खरीदने की अभिलाषा पूरी करने एवं 2022 तक सभी को घर देने के भारत सरकार के मिशन में सक्रिय योगदान देने की दिशा में निष्ठावान प्रयास है। 

‘‘महिलाओं द्वारा महिलाओं के लिए’’ माला प्रोग्राम के तहत सभी शाखाओं का विशेष रूप से महिला स्टाॅक द्वारा संचालन किया जाएगा। एस्पायर ने माला प्रोग्राम के तहत वर्तमान वित्त वर्ष में 1000 महिला ग्राहकों को आवास लोन मदद प्रदान करने की योजना बनायी है। 

श्री मोतीलाल ओसवाल, सीएमडी, मोतीलाल ओसवाल फाइनेंसियल सर्विसेस लि. ने कहा, ‘‘यह हम सभी के लिए अति गर्व का पल है। एक़ वर्ष के अंदर हमने सिर्फ महिलाओं द्वारा संचालित ऐसा अति विशिष्ट प्रोडक्ट पेश किया है। इस प्रोडक्ट के साथ एस्पायर ने अपने वित्तीय समावेशन के लक्ष्य की दिशा में एक और कदम उठाया है।’’

श्री अनिल सचिदानंद, एमडी एवं सीईओ, एस्पायर ने कहा, ‘‘सिर्फ रिटेल होम लोन पर फोकस के साथ निम्न एवं मध्यम आय होम फाइनेंस कंपनी होने से व्यापक रिसर्च के बाद हमने निम्न आय वाली महिला ग्राहकों की जरूरत पूरी करने के लिए एक प्रोडक्ट लाने का निर्णय लिया। निम्न आय वर्ग एवं उनके वित्तीय समावेशन के बारे में काफी कुछ लिखा गया है लेकिन इस वर्ग की कमाने वाली महिलाएं सर्वाधिक उपेक्षित रही हैं। उनकी घर की तलाश प्रायः हमेशा अधूरी रहती है। इन महिलाओं की घर खरीदने की इच्छा पूरी करने में एक छोटी भूमिका अदा करने में माला निष्ठापूर्ण प्रयास है। ये महिलाएं उनके परिवारों को सम्मानजनक रहन-सहन प्रदान करने एवं उनके बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए उनके पतियों के साथ हाथ से हाथ मिलाकर एवं कभी-कभार अकेले ही कार्य करती हैं। इस प्रोग्राम के तहत हम उन्हें नियमित ईएमआई एवं स्टेपअप आधारित पुनर्भुगतान सुविधाएं भी आॅफर करते हैं ताकि उन्हें शुरूआत में मासिक लोन किस्तों का बोझ्ा वहन न करना पड़े।’’

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top