आप यहाँ है :

हिन्दी भवन भोपाल द्वारा अखिल भारतीय पुरस्कारों के लिए प्रविष्टियां आमंत्रित

भोपाल। मध्यप्रदेश राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, हिन्दी भवन, भोपाल प्रतिवर्ष अखिल भारतीय स्तर पर निम्नलिखित पुरस्कार प्रदान करती है। वर्ष 2020 हेतु निम्नलिखित पुरस्कारों हेतु प्रविष्टियां/अनुशंसाएं आमंत्रित की जाती है: (अन्तिम तारीख: 31 दिसंबर 2020)

(1) श्री नरेश मेहता स्मृति वाङ्मय सम्मान-
इक्यावन हजार रूपये का यह सम्मान उस लेखक को दिया जाता है जिसने साहित्येतर ज्ञान विषयों पर (जैसे इतिहास, दर्शन, अर्थशास्त्र, राजनीतिशास्त्र विज्ञान पुरातत्व आदि) हिन्दी में मौलिक योगदान दिया हो। समग्र योगदान का भी विचार किया जाता है।

(2) श्री शैलेश मटियानी कथा सम्मान –
इक्कीस हजार रूपये का यह सम्मान हिन्दी कथा साहित्य के उस लेखक को प्रदान किया जाता है जिसने हिन्दी कथा साहित्य को नई दिशा देने और इसे समृद्ध करने में योगदान दिया हो। इस सम्मान हेतु पचास वर्ष से कम आयु के लेखक को प्राथमिकता दी जाती है।

(3) श्री वीरेन्द्र तिवारी रचनात्मक सम्मान-
इक्कीस हजार रूपये की राशि के साथ यह सम्मान उस लेखक या रचनात्मक कार्यकर्ता को दिया जाता है जिसने गांँधी जी के सिद्धांतों के आधार पर पुस्तक प्रकाशित की हो या सिद्धांतों को व्यावहारिक रूप देते हुए कोई रचनात्मक पहल की हो।

(4) श्री सुरेश शुक्ल ‘चन्द्र’ नाट्य पुरस्कार-
इक्कीस हजार रूपये की राशि का यह पुरस्कार हिन्दी में नाट्य लेखन समीक्षा, अभिनय या निर्देंशन के लिये दिया जाता है।

(5) डॉ. प्रभाकर श्रोत्रिय आलोचना पुरस्कार-
इक्कीस हजार रूपये का यह पुरस्कार हिन्दी में आलोचना और समीक्षा की कृति पर दिया जाता है। समग्र योगदान पर भी विचार किया सकता है।

आपसे अनुरोध है कि कृपया उपर्युक्त सम्मानों तथा पुरस्कारों के लिये अपनी प्रविष्टि/लेखकों के नामों की अनुशंसा के साथ ही कृतियों की दो-दो प्रतियांँ, छाया चित्र के साथ परिचय तथा फोन और ईमेल की पूरी जानकारी के साथ 20 नवम्बर 2020 तक मंत्री संचालक, म.प्र. राष्ट्रभाषा प्रचार समिति हिन्दी भवन, श्यामला हिल्स, भोपाल-462002 के पते पर भेजने का कष्ट करें। पुस्तक प्राप्त करने के लिए आप लेखक या प्रकाशक का पता भी भेज सकते हैं।

– डॉ जवाहर कर्नावट
निदेशक,हिन्दी भवन,भोपाल
75063 78525

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top