आप यहाँ है :

शादी करनी है तो जीतो की ऑनलाइन मीट में आइए

मुंबई। जैन समाज की अंतर्राष्ट्रीय संस्था जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (जीतो) द्वारा लॉकडाउन की वजह से विवाह में आ रही मुसीबतों को दूर करने के लिए एक खास योजना तैयार की है। जीतो द्वारा जैन समाज के विवाह योग्य युवक युवतियों के सगाई संबंध जोड़ने के लिए ‘जीतो ग्लोबल मैट्रिमोनियल ऑनलाइन मीट-2020’ का आयोजन किया जा रहा है। यह ऑनलाइन मीट 19 सितंबर को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आयोजित होगी। इसे ‘जीतो’ की एक अभिनव पहल के रूप में देखा जा रहा है। लॉकडाउन में आपदा को अवसर बनाते हुए जीतो मुंबई झोन द्वारा प्रस्तुत जीतो ग्लोबल मैट्रिमोनियल ऑनलाइन मीट का जीतो ग्वालिया टैंक एवं जीतो जुहू चैप्टर द्वारा आयोजित किया जा रहा है। जैन समाज में विवाह संबंधों के लिए ऑनलाइन लाइव मीटिंग का यह पहला प्रयास है, जिसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी काफी सराहा जा रहा है। इस आयोजन के तहत ब्रेकआउट सेशन में विवाह योग्य युवक युवतियों के लिए परस्पर आमने सामने बातचीत की व्यवस्था है।

जीतो ग्लोबल मैट्रिमोनियल ऑनलाइन मीट में सहभागी होने के लिए भारत सहित दुनिया के कई देशों से विवाहोत्सुक उम्मीदवार अपने बायोडाटा भेज रहे हैं। जीतो की इस ग्लोबल मैट्रिमोनियल मीट में सहभागी होने के लिए जीतो की वेबसाइट https://jito.org/o/matrimonial/registration पर 500 रुपए फीस भरकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। इस मामले में ज्यादा जानकारी के लिए शशि कटारिया (9920693066), जयश्री भंडारी (9833816402), मीना चौधरी (9969000816) एवं नीरू मेहता (9820801241) से फोन पर भी संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा ईमेल आईडी[email protected] पर भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

जीतो मुंबई झोन के चेयरमेन हितेश दोशी एवं चीफ सेक्रेटरी विकी ओसवाल तथा जेएमएपी के डायरेक्टर इंचार्ज विमल संघवी एवं चेयरमेन प्रवीण धोका के नेतृत्व में ‘जीतो ग्लोबल मैट्रिमोनियल ऑनलाइन मीट-2020’ को एक खास आयोजन बनाने के लिए जीतो के ग्वालिया टैंक चैप्टर के चेयरमेन अशोक मेहता व चीफ सेक्रेटरी मुकेश दोशी तथा जुहू चेप्टर के चेयरमेन दिलीप नाबेरा व चीफ सेक्रेटरी अनिल सहलोत की टीम इस अभिनव पहल को सफल बनाने में लगी हुई रही है। जैन समाज की अंतर्राष्ट्रीय संस्था जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (जीतो) की इस अभिनव ऑनलाइन पहल को हर स्तर पर जबरदस्त प्रतिसाद मिल रहा है। कोरोना संकटकाल में जब सब कुछ बंद है। लॉकडाउन में एक जगह से दूसरी जगह आने जाने में कई तरह की परेशानियां हैं। इंटरनेशनल उडानें बंद हैं। ऐसे में लोगों को आपस में मिलना जुलना कम संभव है। लगभग छह महीने हो रहे हैं। ऐसे हालात में रिश्ते तो रुक नहीं सकते। इसीलिए, ‘जीतो’ की इस अभिनव ऑनलाइन पहल को काफी सराहा जा रहा है। साथ ही इस ऑनलाइन मीटिंग में सहभागिता के लिए दुनिया के कोने कोने से विवाह योग्य व्यक्तियां अपनेबायोडाटा भेज रहे हैं।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top