आप यहाँ है :

लता मंगेशकर की भावांजलि- भावार्थ माऊली

लता मंगेशकर का एलबम ‘भावार्थ माऊली‘ जारी हो गया है। भारतीय सिनेमा में अपनी आवाज का जादू बिखेरने वाली लता दीदी के भाई हृदयनाथ मंगेशकर ने भक्ति गीतों के नए एलबम ‘भावार्थ माऊली’ के लिए संगीत तैयार किया है। पचास साल पहले लता दीदी ने सारेगामा के साथ मिलकर ‘ज्ञानेश्वर माऊली’ नाम का भक्ति एलबम जारी किया था। तब भी लता दीदी की आवाज संत ज्ञानेश्वर की कविताओं और अभंगों पर आधारित गीतों में सुनी गई थी।

लता दीदी का कहना है कि, मुझे महान संत ज्ञानेश्वर के काव्य साहित्य को आज की पीढ़ी के सामने प्रस्तुत करने का गौरव प्रदान हुआ है। ‘भावार्थ माऊली’ के जरिए मेरे भाई हृदयनाथ और मैंने हर गीत में आध्यात्मिकता का सार पेश करने की कोशिश की है। उम्मीद है कि इन खूबसूरत गानों को सुनते हुए लोगों को आध्यात्मिकता का एहसास होगा।

लता दीदी ने एलबम या फिल्म में गाने को लेकर कहा कि, गाना तो मेरे अंदर से जाएगा नहीं। गाना मेरी जिंदगी है। गाने के अलावा मेरे पास और है ही क्या। मरते दम तक मैं गाने की कोशिश करती रहूंगी।

आपकों बता दें कि संत ज्ञानेश्वर को महाराष्ट्र के महान कवियों व संतों में से एक माना जाता है। उन्होंने कई भक्ति गीत और कविताएं लिखीं।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top