Monday, May 20, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिअपने पाठ्यक्रमों में एनसीसी को शामिल करेगी माखनलाल यूनिवर्सिटी

अपने पाठ्यक्रमों में एनसीसी को शामिल करेगी माखनलाल यूनिवर्सिटी

भोपाल। ‘माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय’ अपने विभिन्न पाठ्यक्रमों में ‘नेशनल केडिट कोर’ (एनसीसी) को एक जनरल इलेक्टिव क्रेडिट कोर्स (विषय) के रूप में शामिल कर राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन पर एक कदम आगे बढ़ गया है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अंतर्गत ‘एनसीसी’ को एक जनरल इलेक्टिव क्रेडिट कोर्स के रूप में शामिल करने के संबंध में मंगलवार को विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केजी सुरेश के साथ एनसीसी ग्रुप हेडक्वाटर्स ब्रिग्रेडियर संजय घोष एवं 4एमपी बटालियन एनसीसी के कमांडिग ऑफिसर कर्नल प्रशांत कुमार, सीनियर अंडर ऑफिसर अभय पांडे की बैठक हुई।

बैठक में चर्चा के बाद राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अंतर्गत विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के दिशा निर्देशों के अनुसार आगामी शैक्षणिक सत्र से एनसीसी एक जनरल इलेक्टिव क्रेडिट कोर्स के रूप में विश्वविद्यालय में अध्ययन के लिए शामिल करने का निर्णय लिया गया है। इससे मीडिया एवं आईटी पाठ्यक्रमों के विद्यार्थी एनसीसी को एक विषय के रूप में अपनी डिग्री में शामिल कर सकेंगे। आगामी शैक्षणिक सत्र से विश्वविद्यालय के स्नातक स्तर के पाठ्यक्रमों में एनसीसी एक जनरल इलेक्टिव क्रेडिट कोर्स के रूप में विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को उपलब्ध होगा।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के एनसीसी ट्रूप के कैडेड्स ने एनसीसी ग्रुप हेडक्वाटर्स ब्रिग्रेडियर संजय घोष एवं 4एमपी बटालियन एनसीसी के कमांडिग ऑफिसर कर्नल प्रशांत कुमार का स्वागत किया। बैठक में विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. अविनाश वाजपेयी, प्रो. सीपी अग्रवाल, प्रो. पी. शशिकला के साथ ही एनस.सी ट्रूप के असिस्टेंट एनसीसी ऑफिसर लेफ्टिनेंट मुकेश कुमार चौरासे भी उपस्थित थे।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार