आप यहाँ है :

श्री कुठियाला का सम्मान

भोपाल, 15 अप्रैल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बृज किशोर कुठियाला को प्रिंटिंग तकनीक की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सम्मानित किया गया है। ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ मास्टर प्रिंटर्स (एआईएफएमपी) ने कोचीन में गरिमायम समारोह आयोजित कर प्रिंटिंग शिक्षा में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रो. कुठियाला को सम्मानित किया है। देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों और संस्थानों में प्रिंटिंग तकनीक से जुड़े शैक्षणिक पाठ्यक्रम प्रारम्भ करने और इसी क्षेत्र में शोध एवं नवाचारी प्रयोगों को शुरू करने के लिए उन्हें सम्मानित किया गया है। एआईएफएमपी प्रिंटिंग तकनीक और शिक्षा के क्षेत्र में काम करने वाली सबसे पुरानी और प्रतिष्ठित संस्था है। वर्ष 1953 से एआईएफएमपी प्रिंटिंग तकनीक को जन उपयोगी बनाने की दिशा में काम कर रही है।

गौरतलब है कि पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बृज किशोर कुठियाला चार दशक से भी अधिक समय से संचार, जनसंचार एवं मीडिया प्रौद्योगिकी शिक्षा एवं शोध के क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, हरियाणा तथा गुरु जम्भेश्वर विश्वविद्यालय, हिसार में प्रिंटिंग टेक्नालाजी से संबंधित विभिन्न पाठ्यक्रम प्रारम्भ किए। उनके प्रयास के कारण ही आज गुरु जम्भेश्वर विश्वविद्यालय से प्रिंटिंग विषय से पीएचडी की जा सकती है।

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में भी उन्होंने बीटेक प्रिंटिंग एण्ड पैकेजिंग टेक्नालॉजी जैसा पाठ्यक्रम प्रारंभ कराया है। वर्तमान समय में प्रिंटिंग और पैकेजिंग के क्षेत्र में कुशल युवाओं की भारी माँग है। विभिन्न शोध, आंकड़े और रुझान बताते हैं कि भविष्य में प्रिंटिंग एवं पैकेजिंग के क्षेत्र में संभावनाओं के नए द्वार खुलने हैं। मीडिया शिक्षा में नवाचारी प्रयोग के लिए इससे पूर्व प्रो. कुठियाला को सर्वश्रेष्ठ संचारक, संचार गुरु और चाणक्य जैसे सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है। ऑफसेट प्रिंटर्स एसोसिएशन (ओपीए) भी उनको ‘प्रिंट रत्न अवार्ड’ से सम्मानित कर चुका है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top