Saturday, April 13, 2024
spot_img
Homeखबरेंश्री प्रभु और कैलाश सत्यार्थी लाए गुमशुदा बच्चों को परिवार से मिलवाने...

श्री प्रभु और कैलाश सत्यार्थी लाए गुमशुदा बच्चों को परिवार से मिलवाने के लिए रियूनाईट एप

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु और नोबेल पुरस्कार से सम्मानित कैलाश सत्यार्थी ने गुमशुदा और परित्यक्त बच्चों का पता लगाने के लिये एक मोबाइल ऐप्लिकेशन शुरू किया। ऐप का नाम ‘रीयूनाइट’ है। इसे सत्यार्थी नीत बचपन बचाओ आंदोलन और आईटी कंपनी कैपजेमिनी ने मिलकर तैयार किया है।

सत्यार्थी ने कहा कि गुमशुदा बच्चों को महज संख्या नहीं समझा जाना चाहिये क्योंकि यह उन माता – पिता के लिये त्रासदी है जिनकी जिंदगी अपने बच्चे को खोने के बाद पटरी से उतर जाती है। उन्होंने कहा , ” हर गुमशुदा बच्चा उस परिवार की उम्मीद और सपने को दर्शाता है , जो उन्हें खोता है।

श्री प्रभु ने बचपन बचाओ आंदोलन और सत्यार्थी की बच्चों के लिये काम करने के लिये तारीफ की और उम्मीद जताई कि ऐप गुमशुदा बच्चों को उनके माता – पिता से मिलाने में मदद करेगा।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार