आप यहाँ है :

नसीरुद्दीन शाह के मानसिक दिवालियेपन पर भड़की ट्विंकल खन्ना

अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने कहा था कि 70 के दशक में हिंदी सिनेमा में मीडियाक्रिटी आ गई थी और जब राजेश खन्‍ना ने इंडस्‍ट्री ज्‍वाइन की तो फिल्‍मों का स्‍तर सामान्‍य रहा। नसीर के मुताबिक राजेश खन्‍ना एक ‘बुरे अभिनेता’ थे। हालांकि उनकी माफी का खन्‍ना की बेटी और बॉलीवुड एक्‍ट्रेस ट्विंकल खन्‍ना पर कोई असर नहीं पड़ा। ट्विंकल ने ही नसीर के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर नसीर की जमकर आलोचना हुई थी।

ट्विंकल ने ट्विटर पर लिखा, ”सर अगर आप किसी जीवित इंसान की इज्‍जत नहीं कर सकते तो कम से कम किसी मृत व्‍यक्ति की बेइज्‍जती तो न करें जो आपको जवाब भी नहीं दे सकता।’ ट्विंकल ने शाह के माफी मांगने के बाद ट्वीट करते हुए कहा कि ‘शाह की वास्‍तविकता का सम्‍मान करती हूं। मेरे पिता ऐसे शख्‍स थे जिन्‍हें सिनेमा से प्‍यार था और उन्‍होंने आनंद, अमर प्रेम, कटी पतंग जैसी फिल्‍में की थीं। आपके प्‍यार के लिए आप सब का शुक्रिया।’

हिंदुस्तान टाइम्स में छपे इंटरव्‍यू के मुताबिक, नसीरुद्दीन शाह ने राजेश खन्ना को कमजोर अभिनेता बताते हुए कहा, “राजेश खन्ना की वजह से हिंदी फिल्मों के स्तर में गिरावट आई और साधारण सी फिल्‍में बनने लगीं।” अखबार में छपी खबर के मुताबिक नसीर ने कहा कि चूंकि राजेश खन्ना 70 के दशक के बेहद मशहूर अभिनेता थे तो उनके साधारण अभिनय की छाप पूरे बॉलीवुड पर पड़ गई। निर्माता-निर्देशक करण जौहर ने भी ट्विंकल खन्ना की बात का समर्थन करते हुए लिखा, “मैं आपसे सहमत हूं ट्विंकल। नसीर की वरिष्ठता का मैं सम्मान करता हूं लेकिन इंडस्ट्री के एक सदस्य के बारे में ऐसा बयान अच्छा नहीं था।”

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top