Thursday, July 25, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिरिलोय प्री-सीरीज ए2 फंडिंग राउंड में 7 करोड़ रुपये से ज्यादा जुटाए

रिलोय प्री-सीरीज ए2 फंडिंग राउंड में 7 करोड़ रुपये से ज्यादा जुटाए

• इस राउंड में सभी वर्तमान निवेशकों के साथ-साथ ब्लूलोटस वीसी, ड्रीम ग्रीन कैपिटल और कई अन्य विख्यात एंजेल्स ने हिस्सा लिया
• प्लेटफार्म 1.3 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा मूल्य के पजेशन के लिए तैयार हो रहे 1.4 लाख अपार्टमेंट्स का प्रबधन कर रहा है
• कंपनी के क्लाइंट्स में गोदरेज प्रॉपर्टीज, डीएलएफ, एम3एम, शापूरजी पलोनजी रियल एस्टेट, कोल्टे पाटिल, एम्बेसीरेजिडेंशियल, महिंद्रा लाइफस्पेसेस, के रहेजा कॉर्प, ब्रिगेड, पिरामल, रोहन बिल्डर्स, एलएंडटी रियल्टी, अरविन्द स्मार्टस्पेसेस, स्मार्टवर्ल्ड, जेपी इंफ़्रा, बीपीटीपी, पूर्ति रियल्टी जैसे बड़े नामों के साथ राष्ट्रीय स्तर की साझेदारी शामिल है

मुंबई।: बिल्डर्स के लिए होमओनर लॉयल्टी और रेफरलप्लेटफार्म रिलोय इस तिमाही की शुरआत में सम्पन्न हुए प्री-सीरीज ए2 फंडिंग राउंड में 7.2 करोड़ रुपये जुटाए। रियल एस्टेट इंडस्ट्री के बेहतर भविष्य बनाने में कार्यरत कंपनी इस निवेश का इस्तेमाल वृद्धि और विस्तार योजना के लिए करेगी।

इस फंडिंग राउंड में पिछले फंडिंग राउंड के चार निवेशकों के अतिरिक्त कई दूसरे विख्यात एंजेल्स ने हिस्सा लिया। पिछली फरबरी में कंपनी ने 5.9 करोड़ रुपये जुटाये थे। वर्तमान राउंड में सभी मौजूदा निवेशकों के साथ-साथ ब्लूलोटस वीसी, ड्रीम ग्रीन कैपिटल और कई अन्य विख्यात एंजेल्स ने भाग लिया।

रिलोय एक अद्वितीय और रेरा का पालन करने वाला बिज़नेस मॉडल पर कार्य करती है, क्योंकि यह होम ओनर्स के रियल एस्टेट बिल्डर्स के प्रति लगाव से होने वाली आय पर निर्मित है। रेफरल बिक्री केवल खुश होम ओनर्स से हो सकती है, जोकि बिल्डर्स को उनके होम ओनर्स को खुश रखने के लिए प्रेरित करती है।

“भारत अब दुनिया का सबसे ज्यादा जनसँख्या वाला देश है, जिसके पास केवल 7वीं सबसे बड़ी भूमि है। हमारी जरूरत है कि बिल्डर दुनिया में कभी न बने सबसे बड़े शहर बनायें। इसके लिए हमें अच्छे बिल्डरों को रेफरल के माध्यम से प्रोत्साहित करना होगा। हमारा समाधान क्रय के उपरांत होम ओनर की बिल्डर के साथ यात्रा को सुचारू करता है और उनकी घर के इंटीरियर और गृह ऋण सहित सभी सहायक आवश्यकताओं से जुड़े फायदों से उन्हें लाभ पहुंचाता है,” रिलोय के फाउंडर एवं सीईओ अखिल सराफ ने कहा।

प्लेटफार्म 1.3 लाख करोड़ रुपये मूल्य से ज्यादा के पजेशन के लिए तैयार हो रहे 1.4 लाख अपार्टमेंट्स का प्रबंध करता है। कंपनी के क्लाइंट्स में गोदरेजप्रॉपर्टीज, डीएलएफ, एम3एम, शापूरजी पलोनजी रियल एस्टेट, कोल्टेपाटिल, एम्बेसी रेजिडेंशियल, महिंद्रा लाइफस्पेसेस, के रहेजा कॉर्प, ब्रिगेड, पिरामल, रोहन बिल्डर्स, एलएंडटी रियल्टी, अरविन्द स्मार्टस्पेसेस, स्मार्टवर्ल्ड, जेपी इंफ़्रा, बीपीटीपी, पूर्ति रियल्टी जैसे बड़े नामों के साथ राष्ट्रीय स्तर की साझेदारी शामिल है।

“हम जानते हैं कि कितनी लगन से उसने बिज़नेस को खड़ा कर वैल्यू बनाई है और कैसे रिलोय ने मजबूत नेटवर्क का असर पैदा किया है। पिछले 15 सालों में हमने जितने बिज़नेस मॉडल देखें हैं, उनमें ऐप स्टोर सर्वश्रेष्ठ में से एक है और रिलोय रियल एस्टेट का एंड्रॉइड बना रहा है,” ब्लूलोटस वेंचर्स के को-फाउंडर उदय आर्य ने कहा।

रिलोय डॉक्यूमेंट मैनेजमेंट, निर्माण की निगरानी, भुगतान और टिकटों जैसे कार्यों को सरल करने में होम ओनर्स की मदद करने के साथ-साथ होम इंटीरियर और गृह ऋण जैसे जुड़ी हुई आवश्यकताओं के लिए मार्किटप्लेसतैयार करता है।

कंपनी की सफलता रियल एस्टेट डेवेलपर्स को होम ओनर्स केंद्रित करने के लिए तकनीक की सहायता से पुनर्व्यवस्थित करने पर आधारित है। कंपनी बिल्डर-बॉयर के सम्बन्ध को सरल और घर खरीदनी से जुड़ी उनकी आवश्यकताओं की सेवा प्रदान करती है। इस फंडिंग के साथ रिलोय अपनी वृद्धि योजना को गति प्रदान कर स्वयं को एक ऐसे स्वचलित हाउसिंगऑपरेटिंग सिस्टम के तौर पर स्थापित कर पायेगी, जिसे ग्रहण अपने घरों के साथ चाहेंगे।

रिलोय के बारे में:
अखिल सराफ द्वारा 2015 में स्थापित रिलोय 2018 से रियल एस्टेट लॉयल्टीऔर रेफरल में काम करते हुए इस क्षेत्र में विशेषज्ञ मानी जाने लगी है। रिलोय एक बी2बी2सी होम ओनर और ब्रोकर मैनेजमेंट प्लेटफार्म है, जो बिल्डरों को अपने होम ओनर्स और ब्रोकरों को अधिक कुशलता से प्रबंधित करने में मदद करता है। रिलोय जल्द पजेशन के लिए आने वाले 1.3 लाख से अधिक अपार्टमेंटों और भारत के 15 शहरों में फैले 17,000 ब्रोकरों का प्रबंधन करता है। यह समझने के लिए कि कैसे रिले रियल एस्टेट व्यवसाय को बदल सकता है, reloy.co पर हमसे संपर्क करें।

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें:
स्लॉ पीआर

• दिल्ली: अर्चना द्विवेदी / 99589 89404 / [email protected]
• मुंबई: आफ़रीन शेख़ / 9930257896 / [email protected]

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार