Wednesday, May 29, 2024
spot_img
Homeपत्रिकाकला-संस्कृतिभुवनेश्वर राजभवन में दो दिवसीय आर्टिस्ट्स शिविर आयोजित

भुवनेश्वर राजभवन में दो दिवसीय आर्टिस्ट्स शिविर आयोजित

भुवनेश्वर । आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में राजभवन भुवनेश्वर में ओडिशा के महामहिम राज्यपाल मान्यवर गणेशी लाल द्वारा दो दिवसीय (30 और 31 मई) आर्टिस्ट शिविर उद्घाटित हुआ। शिविर में ओडिशा के जाने-माने पेंटिंग आर्टिस्टों ने अपनी-अपनी अनूठी पेंटिंग की नुमाइश की।महामहिम राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल ने अपने संबोधन में कलाकारों को ओडिशा की कला धरोहर की याद दिलाई। उन्हें आशीर्वाद दिया कि वे और अधिक इस कला में पारांगत हों!

उन्होंने बताया कि ओडिशा महाप्रभु जगन्नाथ भगवान का देश कहलाता है जिसे उत्कृष्ट कलाओं का प्रदेश कहते हैं । ओडिशा की जितनी भी कलाएं हैं चाहे वह हस्तकला हो, शिल्प कला हो ,मूर्तिकला हो ,चाहें वास्तुकला हों,सभी का संबंध महाप्रभु जगन्नाथ से है।उनकी श्रीवृद्धि से है। इसीलिए ओडिशा की कला विश्व विख्यात हैं । उन्होंने ने कलाकारों को बेहतर प्रदर्शन के लिए अपने आप से ही प्रतियोगिता करने की अपील की।अवसर पर राजभवन के सभी अधिकारीगण और सहयोगीगण उपस्थित थे।गौरतलब है कि यह पहला मौका नहीं था कि राजभवन में महामहिम राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल द्वारा सिर्फ पेंटिंग शिविर उद्घाटित हुआ अपितु पिछले लगभग चार सालों से समय-समय पर ओडिशा की कला, संस्कृति और साहित्य आदि के और अधिक प्रोत्साहन के लिए ,बाल प्रतिभा,युवा प्रतिभा,नारी सशक्तिकरण जैसे अनेक कार्यक्रम अनुष्ठित होते रहते हैं। राष्ट्रीय कवि संगम का भुवनेश्वर राजभवन में सफल आयोजन यह सिद्ध कर दिया कि भारत की सभी भाषाएं आपस में बहनें हैं। उन सभी आयोजनों पूरा श्रेय राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल जी को जाता है। भुवनेश्वर राजभवन में आयोजित दो दिवसीय आर्टिस्ट्स शिविर का सीधा लाभ शिविर में भाग लेनेवाले कलाकारों को अवश्य मिलेगा।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार