आप यहाँ है :

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हिन्दी में ड्रायविंग परीक्षा होगी

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में अब ड्राइविंग के लिए दिए जाने वाला थ्योरी टेस्ट और इसके लिए होने वाले लेक्चर्स में हिंदी भाषा का विकल्प भी मिलेगा। सरकार ने तीन और भारतीय भाषाओं मलयालम, तमिल और बंगाली को भी सितंबर से ड्राइविंग के लिए होने वाले टेस्ट में शामिल किए जाने की अनुमति दी है। विदेशी भाषाओं में चीनी, रशियन और पर्शियन को टेस्ट की भाषाओं में शामिल किया गया है।
अभी सिर्फ 3 भाषाओं में होता था टेस्ट
यूएई रोड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी अभी तीन भाषाओं इंग्लिश, उर्दू और अरेबिक में टेस्ट कंडक्ट करता है। ड्राइविंग लाइसेंस हासिल करने के लिए जरूरी लेक्चर और नॉलेज टेस्ट आरटीए यूएई द्वारा कंडक्ट कराए जाते हैं। कम्प्यूटर के जरिए लिए जाने वाले इन टेस्ट को पास करना हर उस प्रतिभागी के लिए जरूरी होता है, जो यूएई में ड्राइविंग लाइसेंस हासिल करना चाहता है। विभाग ने जानकारी दी है कि सितंबर से ड्राइविंग के लिए होने वाले टेस्ट में 8 और भाषाएं शामिल की जाएंगी। यूएई के ड्राइवर्स ट्रेनिंग एंड क्वालिफिकेशन के डायरेक्टर आरिफ अल अकील के मुताबिक, हम स्क्रीन टेस्ट के दौरान 11 भाषाओं का इस्तेमाल करने पर विचार कर रहे हैं। प्रतिभागी हेडफोन की मदद से पूछे गए सवालों का जवाब भी दे सकेंगे। ऐसे व्यक्ति जो इन भाषाओं को लिख नहीं सकते, वे सुनकर इन सवालों के जवाब दे सकेंगे।
30 मिनिट का होता है टेस्ट
यूएई ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी के अधिकारियों के मुताबिक, स्क्रीन टेस्ट और वॉइसओवर की मदद से होने वाले आधे घंटे के इस टेस्ट के लिए वे सिस्टम को अपग्रेड कर रहे हैं। इस दौरान टेस्ट की तैयारियों के लिए होने वाले लेक्चर्स में भी दूसरी भाषाओं को शामिल किया जाना है। उधर, दुबई के ड्राइविंग स्कूलों ने भी सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top