Wednesday, May 29, 2024
spot_img
Homeहिन्दी जगतअंतर राष्ट्रीय कवि सम्मेलन की सूत्रधार के रूप में अंशु जैन ने...

अंतर राष्ट्रीय कवि सम्मेलन की सूत्रधार के रूप में अंशु जैन ने किया कमाल

छत्तीसगढ़ की प्रतिभाशाली बिटिया अंशु जैन ने, क़तर में प्रख्यात हास्य-व्यंग्य कवि पद्मश्री प्रो. अशोक चक्रधर की ख़ास सहभागिता वाले विराट कवि सम्मेलन को होस्ट कर अपनी प्रभावी अभिव्यक्ति क्षमता का शानदार परिचय दिया। साथ ही छत्तीसगढ़ का गौरव बढ़ाया। उल्लेखनीय है कि अंशु जैन अपने इंजीनियर पति श्री राहुल जैन के साथ रचनात्मक गतिविधियों के अलावा व्यक्तित्व तथा नेतृत्व विकास की अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं में अंग्रेजी और हिंदी में उत्कृष्ट वक्तृत्व कला का परिचय दे रही हैं।

राजनांदगांव के दिग्विजय कालेज प्रो. डॉ. चन्द्रकुमार जैन-श्रीमती ममता जैन की सुपुत्री तथा दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के ज़ोन सेक्रेटरी हिमांशु जैन की बहन और रायपुर के श्री पदमचंद कमलचंद गोलछा परिवार की बहू अंशु जैन ने नार्थ इंडियन एसोसिएशन के इस यादगार आयोजन में प्रो. चक्रधर सहित जाने-माने कवि आसकरण अटल, अरुण जेमिनी, ममता शर्मा और सुदीप भोला को अपनी धाराप्रवाह शैली में प्रस्तुत कर भरपूर सराहना अर्जित की। इस दौरान उनकी प्रेरक पंक्तियों ने भी क़तर के काव्य प्रेमियों को भावविभोर कर दिया।

उल्लेखनीय है कि अल्प वय और कम समय में ही अंशु ने कई पुरस्कार प्राप्त किये हैं। अभियांत्रिकी शिक्षा प्रावीण्यता के साथ अर्जित कर अंशु जैन प्रबंधन, व्यक्तित्व और नेतृत्व विकास की अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं में निरंतर अपनी प्रस्तुति दे रही हैं। प्रशिक्षण के साथ अपना प्रेसेंटेशन देकर अंशु ने कई मशहूर वक्ताओं और लीडरशिप ट्रेनर्स की सराहना प्राप्त की है। हाल ही में इंटरनेशनल स्पीच कॉम्पीटिशन के चुनिंदा पड़ावों पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर अंशु जैन ने तीन अवार्ड हासिल किये। इससे पहले भी वह स्कूली शिक्षा के दौरान छत्तीसगढ़ राज्य उत्सव में सम्मानित होने के अलावा और जयपुर में मैत्री समूह द्वारा यंग जैना अवार्ड से पुरस्कृत हो चुकी हैं।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार