ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

सुश्री विजयलक्ष्मी जैन
 

  • हिंदी प्रेमियों हिंदी के लिए ये पत्र भेजिये प्रधान मंत्री जी को

    प्रति, श्री नरेन्द्रजी मोदी, प्रधानमंत्री, भारत सरकार, नईदिल्ली विषय- भारत बने भारत महोदय, सर्वविदित है कि संभवत: विश्व में हमारा देश एकमात्र देश है जो दो अलग-अलग भाषाओं और लिपियों में दो अलग-अलग नामों से जाना जाता है- हिन्दी/देवनागरी में भारत, इंग्लिश/रोमन तथा अन्य विदेशी भाषा और लिपियों में India/इंडिया। शर्म आती है, दु:ख होता […]

Get in Touch

Back to Top