ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

सुरेश प्रभु की वजह से कांग्रेस हार गई

पश्चिम बंगाल के एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने समाचार एजेंसी आईएएनएस से चर्चा करते हुए आरोप लगाया है कि रेल मंत्री सुरेश प्रभु की वजह से पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव में पश्चिमी मिदनापुर जिले के खड़गपुर (सदर) सीट सीट पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार ने चुनाव में जीत दर्ज की है। पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री मानस भुइयां ने कहा कि श्री सुरेश प्रभु ने रेलवे टाउन के दौरे के दौरान मतदाताओं को प्रभावित किया। इस सीट से राज्य भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष विजयी हुए हैं।

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भुइयां ने कहा, “प्रभु यहां आए और उन्होंने रेलवे अधिकारियों, कर्मचारियों, ठेकेदारों व प्रशासन के साथ साठगांठ की।” घोष ने इस सीट से चुनाव जीतकर सबको चौंका दिया। कांग्रेस उम्मीदवार ज्ञान सिंह सोहनपाल इस सीट से सन् 1982 से ही चुनाव जीतते आ रहे थे।
भुइयां ने दावा किया कि समय की कमी राज्य में कांग्रेस-वाम मोर्चा गठबंधन के चुनाव हारने का एक प्रमुख कारण रहा।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top