Tuesday, March 5, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिमुंबई में भ्रष्ट अधिकारियों द्वारा भूमि जिहाद के खिलाफ पूरा हिंदू समाज...

मुंबई में भ्रष्ट अधिकारियों द्वारा भूमि जिहाद के खिलाफ पूरा हिंदू समाज सड़कों पर 

मुंबई। घाटकोपर के असलफा गांव में ग्रीन जोन के रूप में आरक्षित 3,000 वर्ग फुट जमीन पर अवैध मस्जिद का निर्माण चल रहा है। इसलिए इस मामले में स्थानीय हिंदू समुदाय में तीव्र आक्रोश की लहर पैदा हो गई है।

पिछले दो साल से यहां के हिंदू इस निर्माण के विरुद्ध संघर्ष कर रहे हैं। कोरोना काल में यह अवैध निर्माण शुरू हुआ। स्थानीय भारत सोसाइटी रेजीडेंट एसोसिएशन के नागरिक कष्ट महसूस करने लगे। उन्होंने सबसे पहले दिसंबर 2020 में पुलिस और एल वार्ड बीएमसी में शिकायत की थी। लेकिन हो सकता है कि इसे गंभीरता से नहीं लिया गया हो या जानबूझ कर नजरअंदाज किया गया हो। रविवार 15 जनवरी को स्थानीय हिंदू समाज ने आखिरकार इस स्थान पर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। उस समय भाजपा विधायक नितेश राणे ने विरोध प्रदर्शन में भाग लिया।

घाटकोपर के असल्फा ग्राम क्षेत्र में ग्रीन जोन के रूप में आरक्षित 3000 वर्ग फुट भूखंड पर बनी एक अवैध मस्जिद को तोड़ा जाना चाहिए। प्रदर्शन कर रहे सकल हिन्दू समाज की मांग है कि राज्य सरकार और नगर निगम इस अवैध मस्जिद को गिराने के लिए तत्काल कार्रवाई करें।

विनम्र निवेदन है कि कृपया आप अपने प्रसिद्ध समाचार पत्र में इस आन्दोलन की खबर प्रसारित करने की कृपा करें।

“Sita Nivas” 2nd Floor, 219, Dr. Ambedkar Road,
Opposite Central Railway Playground, Lower Parel,
Mumbai 400 012. 
www.vskkokan.org 
    

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार