Friday, June 21, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिटिकट परीक्षक के रूप में फर्जीवाड़ा करने वाला पकड़ा गया

टिकट परीक्षक के रूप में फर्जीवाड़ा करने वाला पकड़ा गया

मुंबई। 18 जुलाई, 2021 को ट्रेन नंबर 09040 अवध एक्सप्रेस में आरपीएफ एस्कॉर्ट टीम द्वारा टिकट परीक्षक के रूप में एक धोखेबाज को पकड़ा गया। आरपीएफ की टीम सूरत से बांद्रा टर्मिनस तक ट्रेन को एस्कॉर्ट कर रही थी।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार अवध एक्सप्रेस जैसे ही सूरत स्टेशन से रवाना हुई, बी1 डिब्बे में हंगामा मच गया। श्री अहमद- हेड कांस्टेबल, एस्कॉर्ट इंचार्ज श्री सागर याजगर के साथ इस ट्रेन में जांच करने गए थे। कोच कंडक्टर श्री अरविंद कुमार से बात करने पर पता चला कि एक व्यक्ति यात्रियों का टिकट चेक कर रहा था। आगे की पूछताछ पर, व्यक्ति ने अपने आप को आदित्य टीटीई होने का दावा किया, जो गलत साबित हुआ। आरोपी को आगे की कार्रवाई के लिए वलसाड स्थित आरपीएफ चौकी को सौंप दिया गया है। इस जालसाज़ के पास से टीटीई की एक पुरानी एफआईआर कॉपी-सीटीआई बांद्रा टर्मिनस, शिकायत पुस्तिका और एक पुराना बोर्डिंग चार्ट पेपर मिला है। चूंकि उक्त घटना जीआरपी सूरत के अधिकार क्षेत्र में हुई है, इसलिए आरपीएफ ने धोखेबाज श्री आदित्य को सूरत में जीआरपी को सौंप दिया, जिस पर आगे की जांच के लिए धारा 170 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार