Friday, June 21, 2024
spot_img
Homeखेल की दुनियास्कूल स्तर पर फुटबाल के प्रोत्साहन हेतु फीफा के साथ कीस का...

स्कूल स्तर पर फुटबाल के प्रोत्साहन हेतु फीफा के साथ कीस का हुआ ऐतिहासिक करार

भुवनेश्वर। हाल ही में फीफा के साथ विश्व की सबसे बडी आदिवासी आवासीय विद्यालय,कीस(भारत सरकार द्वारा डीम्ड विश्वविद्यालय के रुप में मान्यताप्राप्त) ने स्कूली स्तर पर फुटबाल के प्रोत्साहन हेतु ऐतिहासिक करार किया। कीस की ओर से कीट-कीस-कीम्स के प्राणप्रतिष्ठाता तथा कंधमाल लोकसभा सांसद प्रोफेसर अच्युत सामंत तथा फीफा फाउण्डेशन के सीइओ यूरी जोरकैफ ने करारनामे पर हस्ताक्षर किये।इस करार के साथ कीस,पूरे ओडिशा तथा सम्पूर्ण भारत समेत दक्षिण एशिया में फुटबाल को स्कूली स्तर पर निश्चित रुप से बढावा मिलेगा।प्रोफेसर अच्युत सामंत के अनुसार फीफा विश्व में फुटबाल खेल को बढावा देने की दिशा में एकमात्र ब्राण्ड संस्था है जिसके साथ इस ऐतिहासिक करार से स्कूल स्तर पर खेल-जगत में फुटबाल की लोकप्रियता और बढ जाएगी ।

इस क्रम में प्रोफेसर सामंत ने ओडिशा के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक के प्रति आभार जताते हुए यह कहा कि श्री पटनायकजी की दूरदर्शिता तथा उनकी ऐतिहासिक पहल पर ओडिशा भारत की खेल सिटी बन चुका है। भारत में हाकी खेल की शान-शौकत पुनः लौट आई बै। प्रोफेसर सामंत के अनुसार इस करारनामे से पूरे विश्व के फुटबालप्रेमी बहुत खुश होंगे क्योंकि इससे फुटबाल को गांव-गांव में स्कूली स्तर पर लोकप्रिय बनाने में मदद मिलेगी। प्रोफेसर सामंत के अनुसार फुटबाल विश्वस्तर पर सबसे लोकप्रिय खेल है उसकी लोकप्रियता इस करार के साथ और बढ जाएगी।कीस के ग्लोबल एम्बेस्डर डा.निक्लोस सामुअल ने भी इस ऐतिहासिक करारनामे का स्वागत किया है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार