Wednesday, April 24, 2024
spot_img
Homeमीडिया की दुनिया सेमुस्लिम युवक ने धर्म छिपाकर हिंदू युवती से शादी की

मुस्लिम युवक ने धर्म छिपाकर हिंदू युवती से शादी की

नोएडा सेक्टर-45 में युवक ने धर्म छिपाकर युवती से शादी रचा ली। शादी के दो साल बाद जब पीड़िता छह माह की गर्भवती हो गई तो उसे पति के धर्म के बारे में पता चला। इसके बाद आरोपी ने अपना असली धर्म स्वीकार कर पत्नी पर भी धर्मांतरण का दबाव डालने लगा। विरोध करने पर युवती का गला दबाकर जान से मारने की भी कोशिश की। इस संबंध में पीड़िता ने थाना सेक्टर-39 में तहरीर दी है। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

पश्चिम बंगाल मालदा निवासी युवती अपनी मां के साथ सन 2010 में सेक्टर-45 सदरपुर गांव में किराये पर रहती थी। इस दौरान उसकी मुलाकात बिहार के किशनगंज निवासी युवक से हुई। वह सेक्टर-44 छलेरा में रहता है। युवक ने अपना नाम अनिल सरकार बताया। दोनों के बीच दोस्ती हो गई। इस दौरान युवती की शादी किसी अन्य युवक से हो गई। दोनों की एक पांच वर्षीय बेटी भी है। शादी के कुछ दिन बाद ही युवती के पति की मौत हो गई।

दो साल पहले की थी शादी

इसके बाद युवती और अनिल एक दूसरे के करीब आ गए। अनिल ने युवती के घर पहुंचकर उसकी मां के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। मां ने शादी के लिए हामी भर दी। जून 2016 में पश्चिम बंगाल के मालदा स्थित मंदिर में अनिल ने युवती के शादी कर ली। शादी के बाद अनिल ने पत्नी व सास के साथ सदरपुर में किराये के मकान में रहना शुरू कर दिया। दस दिन पहले युवती को अनिल के असली धर्म के बारे में पता चला तो वह दंग रह गई। इसका विरोध करने पर आरोपी ने पत्नी के साथ मारपीट की। एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा ने बताया कि मंगलवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। उससे पूछताछ की जा रही है।

आरोपी पहले से था शादीशुदा

अगस्त 2018 में युवती के पास एक अज्ञात महिला का फोन आया। उसने अनिल का असली नाम तनवीर आलम बताते हुए खुद को उसकी पत्नी बताया। इस बारे में युवती ने जब उससे पूछताछ की आरोपी उस पर भी इस्लाम धर्म कबूल करने के लिए दबाव बनाने लगा।

गहने लेकर हो गया था फरार

आरोपी ने व्यापार करने के नाम पर युवती से ज्वेलरी लेकर उसके बदले में 1 लाख 80 हजार रुपये का लोन भी ले लिया। आरोपी 18 नवंबर की रात को नकदी और गहने लेकर फरार हो गया।

साभार- https://www.livehindustan.com से

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार