Friday, May 24, 2024
spot_img
Homeमीडिया की दुनिया सेफिल्मी दुनिया के इन गौभक्षियों को पहचानो

फिल्मी दुनिया के इन गौभक्षियों को पहचानो

समाचार एजेंसी भाषा ने खबर दी है कि  फरहान अख्तर, आयुष्मान खुराना और रिचा चड्ढा समेत कई बॉलिवुड हस्तियों ने महाराष्ट्र में बीफ पर लगी पाबंदी का विरोध  करते हुए सोमवार को इसे 'मानवाधिकारों का उल्लंघन' बताया। राज्य में गोहत्या पर पाबंदी लगाने से जुड़ा बिल कई साल से अटका हुआ था। इसे सोमवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंजूरी दे दी।

फिल्म डायरेक्टर ओनिर ने ट्विटर पर लिखा कि बीफ पर पाबंदी मानवाधिकारों का उल्लंघन है। मैं क्या खाऊं, यह सरकार तय नहीं कर सकती। लगता है कि भारत का 'लोकतांत्रिक' संविधान विविधता सुनिश्चित नहीं करता। बीफ पर पाबंदी इसका निराशाजनक परिचायक है। रिचा चड्ढा ने कहा कि मैं शाकाहारी हूं लेकिन गोमांस पर पाबंदी सांप्रदायिक राजनीति है।

स्टैंड अप कमीडियन वीर दास ने राजनेताओं पर निशाना साधते हुए कहा, 'प्रिय सरकार आइए, बीफ के साथ दांतों पर बैन लगाते हैं। हम उबली सब्जियों पर जी सकते हैं और इस तरह आपके नेता नफरत फैलाने वाला भाषण नहीं दे सकेंगे।' ऐक्टर रणवीर शौरी ने ट्विटर पर लिखा कि खाने पर पाबंदी लगाना बंद करें। शुक्रिया।

फरहान अख्तर ने ट्वीट किया – तो अब महाराष्ट्र में आपको किसी से शिकायत (बीफ) हो सकती है लेकिन आप किसी के साथ बीफ खा नहीं सकते (यू कैन हैव बीफ (शिकायत) विद समवन, बट यू कांट हैव बीफ विद समवन)।

आयुष्मान खुराना ने विशाल भारद्वाज की फिल्म 'कमीने' के तोतले किरदार से प्रेरणा लेते हुए लिखा, 'बीफ फाल बाद 'कमीने'।' 'कमीने' फिल्म में शाहिद कपूर का किरदार स को फ बोलता था।

.

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार