Tuesday, April 16, 2024
spot_img
Homeउपभोक्ता मंचपानी की बर्बादी कर रहा है आरओ, रोक लगाने की माँग

पानी की बर्बादी कर रहा है आरओ, रोक लगाने की माँग

पानी की बर्बादी को लेकर गांव देहात में रिवर्स ओसमोसिस (RO) लगाने के खिलाफ दाखिल एक एनजीओ की याचिका पर एनजीटी ने केंद्र से जवाब मांगा है । एनजीटी अध्यक्ष जस्टिस स्वतंत्र कुमार की अगुवाई वाली बेंच ने मिनिस्ट्री ऑफ वॉटर रिसोर्सिस को नोटिस जारी कर अगली सुनवाई की तारीख 4 अगस्त तक जवाब देने के लिए कहा है।  एनजीओ ने अपनी याचिका में कहा है कि प्रति लीटर प्यूरीफाइड वॉटर के लिए फिल्टर से करीब तीन से चार लीटर पानी बर्बाद हो जाता है जिसकी वजह से करीब 80 फीसदी पानी बर्बाद हो रहा है।

फ्रेंड्स नाम की एनजीओ ने आरोप लगाया कि हेमा मालिनी और सचिन तेंडुलकर जैसे सेलेब्रिटी प्यूरिफायर का प्रचार कर रहे हैं जिससे आम आदमी पर असर पड़ता है और वह इन्हें खरीदना शुरू कर देते हैं।  प्यूरिफिकेशन की ग्रोथ की वजह से ग्राउंड वॉटर प्रदूषित हो रहा है। एडवोकेट सुग्रीव दुबे के जरिए दाखिल याचिका में यह भी कहा गया है कि विभिन्न गांवों में RO सिस्टम लगाए जा रहे हैं और गरीब गांव वालों को मजबूरन उनसे पानी खरीदना पड़ रहा है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार