ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

श्री आशुतोष राणा ने मुख्यमंत्री को अपनी पुस्तक ‘रामराज्य’ की प्रति भेंट की

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज शाम यहां उनके निवास कार्यालय में अभिनेता श्री आशुतोष राणा ने सौजन्य मुलाकात की। श्री राणा ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री को अपनी पुस्तक ‘रामराज्य’ की प्रति भेंट की। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री बघेल को बताया कि इस किताब में भगवान श्री राम के जीवन के विविध प्रसंगों से प्रेरणा लेकर उन्हें अपने आचरण में लाने पर बल दिया गया है। मुख्यमंत्री ने श्री आशुतोष राणा को ‘रामराज्य’ पुस्तक के लेखन पर बधाई दी।

श्री राणा ने छत्तीसगढ़ में राम वन गमन पथ के द्वारा भगवान श्री राम से जुड़े विभिन्न स्थलों को धार्मिक पर्यटन के मानचित्र पर स्थापित करने की पहल पर प्रसन्नता जताई। मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि छत्तीसगढ़ का भगवान राम से गहरा नाता है। छत्तीसगढ़ न सिर्फ श्री राम का ननिहाल है बल्कि अपने वनवास काल के दौरान श्री राम ने काफी समय राज्य में बिताया है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा कोरिया जिले के सीतामढ़ी हरचौका से लेकर सुकमा जिले के रामाराम तक विभिन्न स्थलों को जोड़ते हुए राम वन गमन पथ के रूप में विकसित किया जा रहा है। श्री आशुतोष राणा ने कहा कि छत्तीसगढ़ में श्री राम से जुड़े गौरव को जागृत किया रहा है, जो बहुत प्रशंसनीय है, इससे छत्तीसगढ़ देश के धार्मिक पर्यटन केंद्र के रूप में प्रमुखता से उभरेगा।

मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि छत्तीसगढ़ धार्मिक पर्यटन की दृष्टि से बहुत समृद्ध है, यहां पुष्टिमार्ग के प्रवर्तक श्री वल्लभाचार्य की जन्मस्थली चम्पारण और माता शबरी से जुड़े शिवरीनारायण सहित अनेक स्थल ऐसे हैं जिन्हें विकसित करने की दिशा में ठोस कदम उठाए जा रहे हैं। श्री राणा ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्हें यह जानकर बहुत खुशी हुई कि छत्तीसगढ़ के रामगढ़ में विश्व की प्राचीनतम नाट्यशाला भी है। इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री विनोद वर्मा, संचालक संस्कृति विभाग श्री विवेक आचार्य और राज्य योजना आयोग के सलाहकार श्री गौरव द्विवेदी उपस्थित थे।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top