आप यहाँ है :

ब्राह्मण समाज ने आयोजित किया वाल्मीकि समाज का अधिवेशन

मुंबई। समाज में आपसी समन्वय एवं सहकारिता की भावना निरंतर प्रगाढ़ होती जा रही है जिसका परिणाम है कि सामाजिक सद्भाव एवं हिन्दू एकता के अभिनव आयोजन किये जा रहे हैं। आगामी १५ और १६ अक्टूबर को सायन स्थित गौड़ सारस्वत ब्राहमण सेवा मंडल में वाल्मीकि समाज का राष्ट्रीय सम्मलेन आयोजित किया जा रहा है। उसमें मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे , उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस एवं उत्तर प्रदेश के राजस्व मंत्री अनूप प्रधान वाल्मीकि के साथ -साथ राज्यसभा सांसद सुमित्रा वाल्मीकि भी भाग लेंगीं। मुंबई महानगर के इतिहास में यह पहला अवसर है जब ब्राह्मणों की संस्था द्वारा दलित वर्ग के राष्ट्रीय अधिवेशन के लिए सहज ही अपने संसाधनों के द्वारा सक्रिय सहयोग के साथ -साथ बढ़ -चढ़कर भागीदारी की जा रही है। सामाजिक सद्भाव की भावना को सुदृढ़ करने के लिए सार्वजनिक रूप से ऐसा कोई आयोजन पहली बार मुंबई में किया जा रहा है जिसको लेकर उत्साह का वातावरण बना हुआ है और दलित वर्ग भी स्वयं को हिंदुत्व की मुख्यधारा में जुड़ा हुआ अनुभव कर रहा है।

यह आयोजन निश्चय ही देश को दिशा दिखानेवाला है। हिन्दू समाज को अगर अपनी रक्षा करनी है तो उसे जातिवाद के भेद को भूलकर संगठित होकर विधर्मियों का सामना करना होगा। दूसरा कि प्राचीन काल में जातिवाद का प्रचलन नहीं था। धूला भंगी (बालमीकी) अपनी योग्यता, अपने क्षत्रिय गुण,कर्म और स्वभाव के कारण सवर्ण और दलित सभी की मिश्रित धर्मसेना का नेतृत्व किया था। धर्म स्वाभिमानी दलित हिंदुओं ने अमानवीय अत्याचार के रूप में मैला ढोना स्वीकार किया मगर अपने पूर्वजों का धर्म नहीं छोड़ा , इनमें अनेक हिन्दू राजपूत भी थे। आशा करनी चाहिए कि इन प्रयत्नों से समाज को नयी दिशा मिलेगी और देश भर में अपने स्वधर्मियों को सार्वजनिक रूप से गले लगाने तथा उनके साथ हर घड़ी कंधे से कंधा मिलाकर चलने के गुण प्रबल होंगे। वाल्मीकि न होते तो कौन प्रभु श्री राम से हमारा परिचय करवाता ? वाल्मीकि न होते तो कौन हम पर राम-रतन-धन लुटाता ? वाल्मीकि न होते तो भारत के अंतर्मन में राम जैसी पवित्रता और शुचिता न होती। यही नहीं वाल्मीकि न होते तो तो छंद न होते, कविता न होती।रामायण-काल से वाल्मीकि जी समरसता के “पथ”दर्शक हैं। महर्षि वाल्मीकि जी आदि कवि ही नहीं आज के समाज प्रणेता भी थे।

डॉ रेखा बहनवाल
प्रधान महासचिव अखिल भारतीय वाल्मीकि महासभा

“Sita Nivas” 2nd Floor, 219, Dr. Ambedkar Road,
Opposite Central Railway Playground, Lower Parel,
Mumbai 400 012.
www.vskkokan.org

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top