Thursday, April 25, 2024
spot_img
Homeचुनावी चौपालमुख्य चुनाव आयोग ने ‘मतदाता जंक्शन’ नाम से एक रेडियो श्रृंखला शुरु...

मुख्य चुनाव आयोग ने ‘मतदाता जंक्शन’ नाम से एक रेडियो श्रृंखला शुरु की

मुख्य चुनाव आयोग ने आकाशवाणी के साथ मिलकर ‘मतदाता जंक्शन’ नाम से एक रेडियो सीरीज का शुभारंभ किया। मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने निर्वाचन आयुक्त अनूप चंद्र पांडे के साथ आकाशवाणी के रंग भवन में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान इसकी शुरुआत की। यह जागरूकता कार्यक्रम एक वर्ष तक चलेगा।

बता दें कि यह कार्यक्रम प्रत्येक शुक्रवार को आकाशवाणी के माध्यम से देश भर में चलाया जाएगा, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग चुनाव से जुड़ी जानकारियों को हासिल कर सकें।

इस मौके पर मुख्य चुनाव अधिकारी राजीव कुमार ने कहा कि चुनाव आयोग इस कार्यक्रम के माध्यम से गांव-गांव, शहर-शहर के लोगों को ज्यादा से ज्यादा संख्या में मत देने के लिए प्रेरित करेगा। इसके साथ ही जो हमारे युवा मतदाता हैं उनको प्रेरित करने का कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है। ‘मतदाता जंक्शन’ के माध्यम से चुनाव से जुड़ी हर जानकारी दूर-दूर तक पहुंचाने का लक्ष्य है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग अपने मत का इस्तेमाल करने के लिए बूथ पर पहुंचे।

उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान मत का इस्तेमाल करने के लिए छुट्टी दी जाती है, लेकिन लोग उसका इस्तेमाल चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल ना करके उसे अपनी पर्सनल छुट्टी के तौर पर मनाने लगते हैं। ऐसे में मतदाताओं से अपील है कि चुनाव वाले दिन अगर आपको छुट्टी मिल रही है तो अपनी छुट्टी का इस्तेमाल अपना मत देने में करें।

उन्होंने बताया कि चुनाव आयोग असंगठित क्षेत्रों के संगठनों से भी बात करेगा, ताकि वहां पर काम करने वाले मजदूर कर्मचारी उनको छुट्टी मिल सके और वह अपने मत का इस्तेमाल कर पाएं।

‘मतदाता जंक्शन’ के अंतर्गत 52 कडि़यां होंगी और प्रत्‍येक की अवधि 15 मिनट की होगी। यह कार्यक्रम हर शुक्रवार को विविध भारती, एफएम रेनबो, एफएम गोल्‍ड और आकशवाणी के प्राइमरी चैनलों पर प्रसारित किया जाएगा। देशभर की 23 भाषाओं में इस कार्यक्रम का प्रसारण होगा। कार्यक्रम की प्रत्‍येक कडी चुनावी प्रक्रिया पर एक विशेष विषय पर आधारित होगी।

इस सप्‍ताहिक कार्यक्रम में मतदाताओं से संबंधित सभी पहलुओं की जानकारी शामिल की जाएगी। सभी 52 कड़ियों का लक्ष्‍य मतदान के लिए पात्र सभी नागरिकों को प्रोत्‍साहित करना है, ताकि‍ वे चुनाव में सूझबूझ से निर्णय लें।

वहीं, मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने अभिनेता पंकज त्रिपाठी को निर्वाचन आयोग का नेशनल आइकॉन घोषित किया।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार