Wednesday, May 29, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिपश्चिम रेलवे द्वारा एक दिन में सर्वाधिक 468 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन...

पश्चिम रेलवे द्वारा एक दिन में सर्वाधिक 468 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन

मुंबई। देश भर के विभिन्न राज्यों में ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों को चलाने के भारतीय रेलवे के प्रयासों को गति देते हुए पश्चिम रेलवे द्वारा कोविड के खिलाफ संयुक्त जंग को मजबूती प्रदान करने तथा कोविड मरीजों और उनके परिवारों को राहत प्रदान के लिए लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) के परिवहन के लिए 54 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन चलाई गई हैं। ये ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें गुजरात से दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पंजाब, कर्नाटक और महाराष्ट्र के लिए चलाई गई हैं। 24 मई, 2021 को पश्चिम रेलवे पर एक दिन में सर्वाधिक 468 टन से अधिक ऑक्सीजन का परिवहन किया गया। पश्चिम रेलवे ने 5 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें चलाईं जिनमें 25 टैंकरों के जरिये 467.60 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का परिवहन किया जा रहा है। इन 5 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों में से 3 ट्रेनें गुजरात के हापा से बेंगलुरु और दिल्ली के लिए, एक ट्रेन कानालुस से बेंगलुरु तथा एक अन्य ट्रेन गुजरात के वड़ोदरा के निकट हजीरा से दिल्ली के लिए रवाना की गयी ।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, पश्चिम रेलवे ने अब तक 54 आक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनें चलायी है और इन ट्रेनों में 255 टैंकरों के जरिये लगभग 4773.61 टन तरल चिकित्सा ऑक्सीजन (LMO) का परिवहन किया गया है। जल्द से जल्द अपने गंतव्य स्थलों तक पहुंचने के लिए इन्हें सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर निर्बाध पथ पर चलाया जा रहा है।

24 मई, 2021 तक भारतीय रेल द्वारा विभिन्न राज्यों जैसे महाराष्ट्र (614 MT), उत्तर प्रदेश (3649 MT), मध्य प्रदेश (633 MT), दिल्ली (4600 MT), हरियाणा (1759 MT), राजस्थान (98 MT), कर्नाटक(1063 MT), उत्तराखंड(320 MT), तमिलनाडु (1024 MT), आंध्र प्रदेश (730MT), पंजाब (225MT), केरल (246 MT) तेलंगाना (976 MT) एवं आसाम (80 MT) को 977 टैंकरों के जरिये 16023 मीट्रिक टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) की सुपुर्दगी की जा चुकी है। भारतीय रेलवे ऑक्सीजन की जरुरत वाले राज्यों को यथासंभव कम से कम समय में अधिक से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति करने के लिए प्रतिबद्ध है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार