आप यहाँ है :

11 साल में भरे दो हजार गड्ढे, हैदराबाद के इस दंपति ने बदल दीं शहर की सड़कें

खराब सड़क के कारण हर दिन देश में सैकड़ों दुर्घटनाएं होती हैं, सड़कों पर तमाम गड्ढे हो जाते हैं। ये कई बार जानलेवा भी साबित हो जाते हैं। लेकिन हैदराबाद के एक बुजुर्ग दंपत्ति ने ऐसा कारनामा कर दिखाया जो शायद ही कोई कर पाए। ये दंपत्ति पिछले 11 सालों से सड़क के गड्ढे भर रहे हैं।

दरअसल, हैदराबाद के 73 साल के गंगाधर तिलक कटनम पिछले 11 सालों से अपनी पेंशन के पैसे से गड्ढे भर रहे हैं ताकि लोगों को गड्ढों के कारण होने वाली दुर्घटनाओं से बचाया जा सके। रिटायर्ड रेलवे इंजीनियर कटनम और उनकी पत्नी वेंकटेश्वरी कटनम (64) दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सड़कों और चौराहों सड़कों के गड्ढे ठीक कर रहे हैं।

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार दोनों अब तक दो हजार से अधिक गड्ढे भर चुके हैं। इस काम के लिए उन्हें कोई पैसा नहीं मिलता है बल्कि वह पैसा अपनी पेंशन से लगाते हैं। वे अपनी कार में ड्राइव करते हैं, जिसे वे ‘पोथोल एम्बुलेंस’ कहते हैं, और जहां भी मिलते हैं, गड्ढों को भर देते हैं।

जीटी कटनम ने बताया कि वे रेलवे की नौकरी से रिटायर होने के बाद हैदराबाद शिफ्ट हो गए। उन्होंने सड़कों पर गड्ढों के चलते कई एक्सीडेंट होते देखे तो उन्होंने ठान लिया कि वे गड्ढे भरेंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से इस बात की शिकायत भी की लेकिन जब समस्या का निवारण नहीं हुआ तो उन्होंने खुद ही जुट गए।

उन्होंने बताया, अब तक वे करीब 40 लाख रुपये खर्च कर चुके हैं। कटनम अब ‘रोड डॉक्टर’ के नाम से मशहूर हो चुके हैं। वे शहर के गड्ढों को भरने के लिए पूरी तरह से समर्पित हैं। इस काम में उनकी पत्नी भी उनका पूरा साथ देती है। अब सोशल मीडिया पर इस जोड़ की तारीफ हो रही है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top