ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

पूर्व सैनिकों ने कहा, हम शर्मिंदा हैं कि हम जेएनयू के छात्र रहे, डिग्रीयाँ लौटाएंगे

जेएनयू में पिछले दिनों हुई राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के विरोध में नैशनल डिफेंस अकैडमी के 54वें बैच के अधिकारियों ने अपनी डिग्री लौटाने का फैसला लिया है। उन्होंने इसके लिए पिछले दिनों हुई राष्ट्रविरोधी गतिविधियों को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया है और कहा है कि इससे वे बहुत आहत हैं। जेएनयू के उपकुलपति को एक पत्र भेजकर 1978 में पास हुए पूर्व सैनिकों ने कहा है, ‘अब खुद को जेएनयू से जुड़ा हुआ महसूस करने में हमें शर्म महसूस हो रही है। जेएनयू राष्ट्र विरोधी गतिविधियों का अड्डा बन चुका है।’

उन्होंने कहा है कि अगर ऐसी गतिविधियों को कैंपस में इजाजत दी जाती है तो हम अपनी डिग्रियां लौटाने के लिए मजबूर हैं।खबरों के मुताबिक, सैनिकों ने वीसी से कहा है कि अब यह वीसी और अन्य अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि वे सुनिश्चित करें कि और लोगों का दिल इस तरह की हरकतों से न दुखे। बता दें कि पिछले दिनों जेएनयू में स्टूडेंट्स के एक ग्रुप द्वारा देशविरोधी नारेबाजी के बाद से तमाम लोग सोशल मीडिया पर डिग्री लौटाने की बात भी कर रहे थे।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top