आप यहाँ है :

महंगाई भत्ते को आयकर दायरे से बाहर लाइए

इस बजट से मध्यम वर्ग (प्रधान सेवक नमो जी का मेन कैडर वोटर एवं प्रचारक जो कि कई दशकों से संघ एवं उसके आनुषांगिक संगठनों विद्यार्थी परिषद्से, भाजयुमो, बीजेपी, विश्व हिन्दू परिषद् , बजरंग दल, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ आदि से जुडकर नमो क्रांति में काम किया है और नमो जी का कट्टर फैन भी है ) बहुत नाराज़ है ! महंगाई भत्ते को आयकर दायरे से बाहर लाइए नाराजगी दूर हो जाएगी ! DA (महगाई भत्ता) महगाई से राहत के रूप में दिया जाता है उसे आयकर के दायरे में ले आकर उस पर आयकर लेना तो अन्याय है ; ये तो अंग्रेजों जैसा कानून के जरिये लुट है ! इसे बुराई को अपने देशभक्तों की सरकार में तो दूर करिए !

अच्छे दिनों के लिए बजट का सदुपयोग हो ! असली अच्छे दिन तो तब आयेंगे जब इस बजट का सही उपयोग होगा यानि जो ८५ -९०% बजट का हिस्सा कांग्रेसराज में बिचौलिए दलाल खा जाते रहे हैं उस पर रोक लगे और पूरी पारदर्शिता एवं इमानदारी से जनता का धन जनता पर खर्च हो ! बिचौलिए भ्रष्टाचारियों ( जिसमे नेता, व्यापारी, ठेकेदार, अधिकारी एवं कर्मचारी शामिल हैं) की खुली संगठित (organised) लूट पर पूरी तरह से लगाम लगे और इसके लिए जरुरी है कि लुटेरों को कड़ी से कड़ी सजा और जल्द से जल्द यानि अविलम्ब मिले ! तब अच्छे दिन आएंगे वरना ये लुटेरे तो अंधेरगर्दी मंचाये हुए हैं !

तंबाकू उत्पाद या अन्य नशीले पदार्थ महंगे करने से नशा करने वाले नहीं मानेगें ! नशा एवं नशेड़ियों को पूर्ण रूपेण प्रतिबंधित करने हेतु नशा अपराधिक कृत्य घोषित हो ! नशेड़ियों को सजा हो ! नशेडी खासकर सफ़र मे दूसरे सज्जन लोगों का जीना हराम कर देते हैं !

सरकार अपना राजस्व बढाने हेतु अब तक आमदनी पे टैक्स लगाती रही है और लोग आमदनी छुपाते हैं अब वक़्त आ गया है कि खर्चे पे टैक्स लगाया जाये ! दूसरा उपाय बैंक ट्रांजेक्शन टैक्स लाकर इनकम टैक्स ख़त्म करो ! ऐसा करने से राजस्व में ४ गुना इजाफा होगा !

DA को इनकम टैक्स के दायरे से किसी भी कीमत पर बाहर लाना ही चाहिए ! प्रथम प्रयास के रूप में ईमानदार वेतनभोगियों से अविलम्ब इनकम टैक्स हटा लिया जाये औरउसकी भरपाई काले धन वाले पिशाचों से तत्काल वसूली करके और अनाप शनाप खर्चे पर टैक्स (इनकम टैक्स) लगाकर पूरी कर ली जाये !

संपर्क
आचार्य डॉ. विक्रमदेव शर्मा (स्वदेशी क्रांतिवीर,)
राज्य प्रभारी, सोशल मीडिया
(भारत स्वाभिमान ) उ.प्र . (पू.)
अध्यक्ष , राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ, पू. वि. वि. जौनपुर, उ. प्र.
सूत्र : ०९९१९८८३५३३, ८६०४२६३०९०,

ई – मेल आई डी : [email protected]

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top