Wednesday, May 29, 2024
spot_img
Homeपाठक मंचगाँवों के लोग गुलामी की भाषा अंग्रेजी कैसे समझें?

गाँवों के लोग गुलामी की भाषा अंग्रेजी कैसे समझें?

महोदय,

मैं मध्यप्रदेश के रायसेन जिले की तहसील बेगमगंज के गाँव सुल्तानगंज का निवासी हूँ, हमारे गाँव की जनसंख्या मात्र 2000 है, गाँव के लोगों को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान नहीं है। हम लोग इंटरनेट का प्रयोग हिन्दी में करते हैं। भारत सरकार की अधिकतर ऑनलाइन सेवाएँ, वेबसाइट व मोबाइल अनुप्रयोग केवल अंग्रेजी में होने से हम प्रयोग नहीं कर पाते हैं।

कुछ सेवाएँ हिन्दी में शुरू हो रही हैं तो आधे-अधूरे मन से की जा रही हैं, हिन्दी सेवाओं में अधिकारी ध्यान नहीं देते हैं, उन पर नई जानकारी, नई सुविधा नहीं देते हैं। अगर देते हैं तो उसमें बहुत सारी अंग्रेजी शब्दावली व रोमन लिपि डाल देते हैं, जिसे समझना हमारे बहुत कठिन हो जाता है।

कोरोना संक्रमण काल में आरोग्य सेतु अनुप्रयोग शुरू हुआ है, पर उसके हिन्दी संस्करण को बिना मन से बनाया गया है, अंग्रेजी भरी पड़ी है, हिन्दी भी बहुत गलत लिखी है।

आपसे अनुरोध है कि आरोग्य सेतु अनुप्रयोग के हिन्दी संस्करण में सुधार करें:

1. आपने कई विवरणों का अनुवाद ऐसे अनुवादक से करवाया है जिसे सही अनुवाद करना नहीं आता, कृपया हिन्दी अनुवाद की पुनः जाँच करवाएँ, और अच्छे अनुवादक से अनुवाद करवाएँ।

गलत अनुवाद के कुछ उदाहरण –

· नमस्ते से नमस्कार करें= हाथ मिलाने के स्थान पर नमस्ते या नमस्कार करें

· स्व आश्वासन टेस्ट लें= अपना परीक्षण स्वयं करें

· सामाजिक दूरी = शारीरिक दूरी

· करो, न करो= क्या करें, क्या न करें

· Frequently asked questions = सामान्य प्रश्न

· Trending now = लोकप्रिय

· Covid-19 = कोविड-१९

· समय के साथ कोविड -19 मामले= कोरोना मामलों का घटनाक्रम

· संघ राज्य क्षेत्र = केंद्र शासित प्रदेश

· अपडेट के लिए नियमित रूप से ऐप देखें= ताजा जानकारी के नियमित रूप से ऐप देखें

· Government of India =भारत सरकार

· Arogya Setu = आरोग्य सेतु

· वायरस, virus = विषाणु (विष+अणु=जहर का अणु) छोटे शहरों व गांवों में वायरस शब्द के बदले विषाणु शब्द अधिक उपयुक्त है, मराठी नेपाली व गुजराती में विषाणु शब्द का ही प्रयोग किया जा रहा है।

2. वीडियो विवरण अंग्रेजी में क्यों?

How to boost immunity =रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएँ

What Will App Do= ऐप क्या करेगा?

How Does It Protect Me?= यह ऐप कैसे सुरक्षा प्रदान करता है?

Make your own mask= अपना नकाब स्वयं बनाएँ

Arogya Setu app Hindi version =आरोग्य सेतु ऐप हिन्दी संस्करण

Arogya Setu app contact tracing = आरोग्य सेतु एप: संपर्क अनुरेखण

Together we can = साथ मिलकर चलें

3. हिन्दी संस्करण में अंग्रेजी के पोस्टर अपलोड किए गए हैं। हिंदी पोस्टर अपलोड करें।

4. हिन्दी संस्करण के कई विकल्प भी अंग्रेजी में ही प्रदर्शित हैं, हिन्दी संस्करण के सभी टैब व सभी पद हिन्दी में प्रदर्शित करें। वीडियो हिन्दी के डालें व उनका विवरण हिन्दी में डालें।

5. कोरोना विषाणु संक्रमण के रोगियों की संख्या में राज्यों के नाम अंग्रेजी में लिखे हैं, उन्हें हिन्दी में प्रदर्शित करें।

6. उपयोग की शर्तों को हिन्दी में परिवर्तित करें।

7. कई जगह कोविड-१९ को अंग्रेजी में Covid-19 लिखने का क्या औचित्य है, हिन्दी संस्करण में कोविड-१९ लिखें या जनसामान्य द्वारा समझने के लिए कोरोना ही लिखें तो अच्छा होगा। हिंदी संस्करण का प्रयोग गाँव व छोटे शहरों के हम जैसे लोग कर रहे हैं, हमारे लिए बीमारी से बचाव जरूरी है, अंग्रेजी सीखना नहीं।

8. हिन्दी संस्करण चुनने पर ओटीपी, मोबाइल संदेश भी हिन्दी में आना चाहिए न अंग्रेजी में।

9. हिन्दी संस्करण में प्रधानमंत्री जी का संदेश, प्रधानमंत्री देखभाल कोष में दान का विवरण अंग्रेजी में प्रदर्शित है, उसे हिन्दी में करें।

10. आरोग्य सेतु अनुप्रयोग एंड्रॉयड के पुराने संस्करणों व साधारण स्मार्ट फोन पर काम नहीं करता है जबकि देश के करोड़ों नागरिक अभी भी उनका प्रयोग करते हैं इसलिए इसे सभी फोनों पर उपयोग के योग्य बनाया जाए ताकि अधिकाधिक लोग इसका प्रयोग कर सकें।

11. ड्रापडाउन विकल्पों में देश व राज्यों के नाम हिन्दी में प्रदर्शित करें।

12. प्ले स्टोर पर हिन्दी में टिप्पणी लिखने पर भी कोई सुधार नहीं किया जाता बल्कि अंग्रेजी में उत्तर लिखा जाता है, जिसे लोग समझ नहीं पाते हैं। हिन्दी में टिप्पणी का उत्तर हिन्दी में दिया जाए।

13. आरोग्य सेतु अनुप्रयोग के हिन्दी संस्करण ही सभी जानकारी व सुविधा हिन्दी में करें।

14. बार-2 आने वाली मोबाइल अधिसूचना हिन्दी में हो।

15. प्रयोगशालाओं के नाम, पते व गूगल मानचित्र हिन्दी में करें।

16. अंग्रेजी में लिखे सभी शब्दों को हटाकर हिन्दी पर्यायवाची लिखें।

कृपया सुधार करने की अनुकंपा करें ताकि हम अंग्रेजी न जानने वाले देहातों में रहने वाले ठीस से इसका प्रयोग कर सकें।

निवेदक
अभिषेक कुमार,
ग्राम- सुल्तानगंज, तहसील-बेगमगंज
जिला-रायसेन 464570 (मध्यप्रदेश)

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार