आप यहाँ है :

 

  • यूपी में सभी पार्टियों के अपने-अपने दावे

    यूपी में सभी पार्टियों के अपने-अपने दावे

    उत्तर प्रदेश का चुनावी समर अपने उफान पर है, 11 फरवरी 2017 को पहले चरण का मतदान होना है। इसलिए उत्तर प्रदेश की सभी प्रमुख पार्टियां अपने-अपने प्रचार को धार देने में लगी हैं और भाजपा और सपा जैसी दिग्गज पार्टियों ने अपने घोषणा पत्र में लोक लुभावने वायदे कर लोगों को लुभाने का दांव चला है।

  • पर्यावरण के इस उजाले को कोई तो बांचे

    पर्यावरण के इस उजाले को कोई तो बांचे

    आदर्श की बात जुबान पर है, पर मन में नहीं। उड़ने के लिए आकाश दिखाते हैं पर खड़े होने के लिए जमीन नहीं। दर्पण आज भी सच बोलता है पर हमने मुखौटे लगा रखे हैं। ग्लोबल वार्मिंग आज विश्व के सामने सबसे बड़ी गंभीर समस्या है और हम पर्यावरण को दिन-प्रतिदिन प्रदूषित करते जा रहे हैं।

  • श्री हरि सत्संग समिति का आयोजन- ‘द्रौपदी’ : न भूतो न भविष्यति

    श्री हरि सत्संग समिति का आयोजन- ‘द्रौपदी’ : न भूतो न भविष्यति

    कुछ रचनाएँ, कुछ किरदार और कुछ पात्र और कुछ प्रस्तुतियाँ ऐसी यादगार हो जाती हैं कि प्रेक्षकों के ह्रदय पटल पर हमेशा हमेशा के लिए अपनी छाप छोड़ जाती है।

  • भारत की पहली वेब आधारित फीचर फिल्म ‘यू मी और घर’

    भारत की पहली वेब आधारित फीचर फिल्म ‘यू मी और घर’

    । वेब टॉकीज, देश का तेजी से विकसित होने वाला डिजिटल होम एन्टरटेनमेंट ब्रांड, कॉमर्शियल ऑनलाइन मनोरंजन क्षेत्र में कला और नवाचार को पेश करने के मामले में अग्रणी है। फिल्म देखने के परंपरागत माध्यम को अलविदा कहते हुए वेब टॉकीज भारत की पहली वेब आधारित फीचर फिल्म ‘यू मी और घर’ के लॉन्च के जरिए मनोरंजन का एक नया इतिहास रचने के लिए तैयार है।

  • घी गेहूँ नहीं रोज़गार चाहिए साहब

    घी गेहूँ नहीं रोज़गार चाहिए साहब

    चुनाव आयोग द्वारा चुनाव से पहले आचार संहिता लागू कर दी जाती है। आज जब विभिन्न राजनैतिक दल इस प्रकार की घोषणा करके वोटरों को लुभाने की कोशिश करते हैं तो यह देश और लोकतंत्र दोनों के हित में है कि चुनाव आयोग यह सुनिश्चित करे कि पार्टियाँ अपने चुनावी मेनिफेस्टो को पूरा करें और जो पार्टी सत्ता में

  • फिर आया वसंत धरती पर

    फिर आया वसंत धरती पर

    कालजयी रचनाकार रवींद्रनाथ टैगोर की उक्त पंक्तियां वसंत ऋतु के महत्व को दर्शाती हैं. प्राचीन काल से ही भारतीय संस्कृति में ऋतुओं का विशेष महत्व रहा है. इन ऋतुओं ने विभिन्न प्रकार से हमारे जीवन को प्रभावित किया है. ये हमारे जन-जीवन से गहरे से जुड़ी हुई हैं. इनका अपना धार्मिक और पौराणिक महत्व है.

  • अमृता बेरा और शर्मिला बोहरा को सम्मान

    अमृता बेरा और शर्मिला बोहरा को सम्मान

    कमला गोइन्का फाउण्डेशन के प्रबंध न्यासी श्यामसुन्दर गोइन्का ने सूचित किया है कि कमला गोइन्का फाउण्डेशन ने इस वर्ष से हिन्दी से बंगला व बंगला से हिन्दी अनुवाद के लिए नामचीन चिंतक, दार्शनिक व लेखक की स्मृति में सद्य घोषित 31000/- रुपये का "श्री प्रभात रंजन सरकार स्मृति पुरस्कार" के लिए प्रथम वर्ष का पुरस्कार अमृता बेरा को उनकी बंगला से हिन्दी में अनूदित कृति "दोज़ख़नामा" के लिए दिया जायेगा।

  • 2016 में बाबा रामदेव रोज 20 घंटे टीवी पर दिखते रहे

    2016 में बाबा रामदेव रोज 20 घंटे टीवी पर दिखते रहे

    बाबा रामदेव की पतंजलि विदेशी एफएमसीजी कंपनियों को कड़ी टक्कर दे रही है। न्यूज चैनलों पर पतंजलि की किफायती मीडिया स्ट्रैटिजी काफी कारगर साबित हो रही हैं।

  • डॉ. सुभाष चंद्रा ने राम और रामायण की व्याख्या कुछ यों प्रस्तुत की

    डॉ. सुभाष चंद्रा ने राम और रामायण की व्याख्या कुछ यों प्रस्तुत की

    डॉ. सुभाष चंद्रा बोलते जा रहे थे और खचाखच भरे मुंबई के सबसे बड़े ऑडिटोरियम षण्मुखानंद सभागृह में बैठे लोग निस्तब्ध सुनते जा रहे थे। उनका एक-एक शब्द मानो उस सभागृह में बैठे लोगों की मन की अभिव्यक्ति थी। तालियों की गड़गड़ाहट इस निस्तब्धता को तोड़ देती थी, मगर शब्दों का प्रवाह जादू सा असर कर रहा था।

  • आम यात्रियों प्रभुजी की सौगात, चलेगी शानदार सुविधा वाली गाड़ियाँ

    आम यात्रियों प्रभुजी की सौगात, चलेगी शानदार सुविधा वाली गाड़ियाँ

    सामान्य श्रेणी के यात्रियों की बढ़ती जरूरत को देखते हुए रेलवे अंत्योदय सुपरफास्ट ट्रेन शुरू करेगा। इन ट्रेनों के जरिए सामान्य श्रेणी के यात्रियों को अधिक मांग वाले मार्गों पर कई सुविधाएं दी जाएंगी। इन ट्रेनों में पेयजल डिस्पेंसर, मोबाइल फोन चार्जिंग प्वाइंट, आग बुझाने के यंत्र सहित अन्य चीजें होंगी।

Back to Top